Top

योगी के मंत्री को सपा से डर, ये है वजह...

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 5 Oct 2018 10:58 AM GMT

योगी के मंत्री को सपा से डर, ये है वजह...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अमेठी: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को अमेठी में हमेशा कांग्रेस से बड़ा खतरा लगता रहा है। वर्तमान समय में बीजेपी को कांग्रेस के साथ-साथ समाजवादी पार्टी (सपा) से भी खतरा लगने लगा है। इसका प्रमाण तब मिला जब जगदीशपुर डाक बंगले में सपा के पूर्व निर्धारित कार्यक्रम को प्रशासन ने महज इसलिए निरस्त किया क्‍योंकि मंत्री महोदय को यह कार्यक्रम पसंद नहीं था।

जगदीशपुर डाक बंगले में होने वाली थी सपा बूथ कमेटी की बैठक

जानकारी के अनुसार जगदीशपुर के लोक निर्माण विभाग के निरक्षण भवन में समाजवादी पार्टी की बूथ कमेटी की बैठक होने वाली थी। समाजवादियों की मानें तो कार्यक्रम पूर्व निर्धारित था, इस बीच जगदीशपुर विधानसभा सीट से विधायक एवं सूबे के राज्य मंत्री सुरेश पासी लखनऊ से क्षेत्र में पहुंच गए। आरोप है कि मंत्री को जैसे ही इस बात की भनक लगी कि जगदीशपुर डाक बंगले में बूथ कमेटी की बैठक होने वाली है, तो उन्होंने सरकार की हनक दिखाया। जिसके चलते प्रशासन बैक फुट पर आ गया, और बैठक को अचानक मंत्री के दबाव में स्थानांतरित कराया।

समाजवादी पार्टी की महिला नेता ने कहा क्षेत्रवासी करेगें मंत्री का विरोध

समाजवादियों ने दो दिन पूर्व से ही उक्त कार्यक्रम की तैयारी शुरू कर दिया था। लेकिन अचानक हुए आदेश पर कार्यक्रम के ठीक समय कुर्सियां उठानी पड़ी और पंडाल निकालना पड़ा। इससे नाराज समाजवादी पार्टी की महिला नेता ने कहा

हम अनुमति लेने गए तो एसडीएम कोर्ट पर थे, स्टोनो ने आज आदेश के लिए बुलाया था, कल तक मंत्री का कोई प्रोगाम नहीं था। आज अटेंडम कहा मंत्री जी का प्रोगाम लगा है यहां कोई मीटिंग नहीं हो सकती। ये मंत्री का दबाव है, इसके लिए कार्यकर्ता और क्षेत्रवासी मंत्री का विरोध करेगें। क्षेत्र की जनता ने उन्हें जिताया है, ये क्षेत्रीय जनता का प्रोगाम था। उन्होंने इसको रुकवाया है हम इसका विरोध करेगे। वही उप जिलाधिकारी मुसाफिरखाना ने बताया कि आज डाक बंगला जगदीशपुर में मंत्री के लिए आरक्षित है। लगता है मंत्री महोदय को अब सपा से भी डर लगने लगा है क्‍योंकि उन्‍हें पता है कि उनकी सरकार ठीक से काम नहीं कर रही है।

जबकि मंत्री सुरेश पासी ने खुद पर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया। उन्होंने कहा कि हमारे द्वारा किसी अधिकारी पर कोई दबाव नहीं डाला गया है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story