Top

KCR और जगनमोहन रेड्डी, 'मोदी के पालतू कुत्ते' हैं: CM चंद्रबाबू नायडू

मछलीपट्टनम में सोमवार को एक रैली को संबोधित करते हुए नायडू ने आपत्तिजनक शब्दों में कहा, 'बेशर्म जगनमोहन रेड्डी कुत्ते के बिस्किट खा रहे हैं। वह ये बिस्किट हमें भी बांट रहे हैं। जगनमोहन और केसीआर मोदी के पालतू कुत्ते हैं, जो एक बिस्किट के लिए अपने घुटनों पर बैठे रहेंगे। उन्होंने सबको होशियार करते हुए कहा कि, जगन ये बिस्किट आपको भी देने की कोशिश करेंगे।'

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 9 April 2019 7:02 AM GMT

KCR और जगनमोहन रेड्डी, मोदी के पालतू कुत्ते हैं: CM चंद्रबाबू नायडू
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आंध्र प्रदेश: अपने राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देते हुए आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने सोमवार को वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष जगनमोहन रेड्डी और टीआरएस के अध्यक्ष व तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव को 'मोदी का पालतू कुत्ते' कहा है।

'बेशर्म जगनमोहन रेड्डी कुत्ते के बिस्किट खा रहे हैं। वह ये बिस्किट हमें भी बांट रहे हैं।

मछलीपट्टनम में सोमवार को एक रैली को संबोधित करते हुए नायडू ने आपत्तिजनक शब्दों में कहा, 'बेशर्म जगनमोहन रेड्डी कुत्ते के बिस्किट खा रहे हैं। वह ये बिस्किट हमें भी बांट रहे हैं।

जगनमोहन और केसीआर मोदी के पालतू कुत्ते हैं, जो एक बिस्किट के लिए अपने घुटनों पर बैठे रहेंगे। उन्होंने सबको होशियार करते हुए कहा कि, जगन ये बिस्किट आपको भी देने की कोशिश करेंगे।'

ये भी देखें: ससुराल से निकाली गई महिला उस जगह से मुकदमा दर्ज करा सकती है जहां उसने शरण ली है: कोर्ट

चंद्रबाबू नायडू ने बीजेपी और टीआरएस पर वाईएसआर कांग्रेस पार्टी को फंड देने का आरोप भी लगाया और कहा कि करोड़ों रुपए खर्च करने के बाद भी राज्य में उन्हें वोट नहीं मिलेगा। चंद्रबाबू नायडू ने जगनमोहन रेड्डी को फंडिंग की बात करते हुए कहा, 'मोदी और केसीआर ने 1000 करोड़ रुपए खर्च किए हैं।

उन्होंने केसीआर पूछने के अंदाज कहा कि तुमने ये पैसे क्यों खर्च किए? और तुम अपने राज्य का पैसा हमारे यहां क्यों खर्च कर रहे हो। एक हजार करोड़ रुपए खर्च करने के बावजूद यहां से तुम्हें एक भी वोट नहीं मिलने वाला। हमारे लोग तुमसे बहुत नाराज हैं।'

ये भी देखें: बेअदबी का मामला : आईपीएस अधिकारी कुंवर विजय प्रताप का तबादला

गौरतलब है कि चंद्रबाबू नायडू ने ऐसे समय में ये विवादित टिप्पणी की है जब राज्य में लोकसभा चुनाव 2019 के लिए सियासी गर्मी अपने उच्चतम स्तर पर है। 11 अप्रैल को आंध्र प्रदेश में लोकसभा और विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग होने जा रही है। मतगणना 23 मई को होगी।

SK Gautam

SK Gautam

Next Story