Top

मोदी-योगी के मुरीद हुए कल्बे जव्वाद और अखिलेश सरकार बेईमान

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 13 Dec 2017 10:21 AM GMT

मोदी-योगी के मुरीद हुए कल्बे जव्वाद और अखिलेश सरकार बेईमान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : शिया मौलवी कल्बे जव्वाद ने केंद्र की मोदी सरकार व उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की अल्पसंख्यकों में पहुंच बनाने के लिए तारीफ की और कहा कि मुस्लिम उनके शासन में सबसे ज्यादा सुरक्षित हैं।

शिया मौलवी ने कानपुर में मंगलवार को एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा कि गोरक्षा व लव जिहाद के कुछ मामलों को छोड़कर उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार के तहत कानून व व्यवस्था में व्यापक सुधार हुआ है।

उन्होंने कहा, "अखिलेश यादव के कार्यकाल में हुए 600 छोटे व बड़े दंगों के मुकाबले आदित्यनाथ सरकार के आठ महीने के कार्यकाल में एक भी सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ है।"

ये भी देखें : योगी सरकार के दावे फेल: बेटियां खतरे में ले रही सांस, ऐसे में कैसे सुरक्षित रहेगी आधी आबादी

अयोध्या के राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद पर जव्वाद ने कहा कि सभी हितधारकों को मामले में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का इंतजार करना चाहिए।

उन्होंने उत्तर प्रदेश की पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी सरकार पर सबसे ज्यादा भ्रष्ट व बेईमान होने का आरोप लगाया।

जव्वाद ने अखिलेश सरकार पर साइकिल ट्रैक बनाने के नाम पर जनता के 20,000 करोड़ रुपये बर्बाद करने का आरोप लगाया। यह अखिलेश की महत्वकांक्षी परियोजना थी।

ये भी देखें : योगी सरकार ने तीन तलाक पर सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का स्वागत किया

गुजरात चुनाव पर टिप्पणी करते हुए मौलवी ने कहा कि गुजरात के परिणाम भाजपा व कांग्रेस दोनों की सोच से परे होंगे।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story