Top

PM की डिग्री है फर्जी, उनकी बात सुनना बंद करें स्टूडेन्ट्स : आनंद शर्मा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित पार्टी के सभी नेता इस चुनावी बेला में बीजेपी और पीएम नरेंद्र मोदी पर हमलावर हैं इसी क्रम में आनंद शर्मा ने कहा, पीएम की खुद की शैक्षणिक डिग्री वैधानिकता के सवालों के घेरे में है और वो स्टूडेन्ट्स को पढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं।'

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 30 Jan 2019 1:50 PM GMT

PM की डिग्री है फर्जी, उनकी बात सुनना बंद करें स्टूडेन्ट्स : आनंद शर्मा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित पार्टी के सभी नेता इस चुनावी बेला में बीजेपी और पीएम नरेंद्र मोदी पर हमलावर हैं इसी क्रम में आनंद शर्मा ने कहा, पीएम की खुद की शैक्षणिक डिग्री वैधानिकता के सवालों के घेरे में है और वो स्टूडेन्ट्स को पढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं।'

ये भी देखें : विदेश जाने के लिए कार्ति चिदंबरम के सामने SC ने रखी ये शर्तें, लगाई फटकार

उन्होंने कहा, यूनिवर्सिटीज ने उनकी डिग्री से जुड़े आरटीआई का उत्तर देने से इंकार कर दिया। विद्यार्थियों को उनकी बात नहीं सुननी चाहिए क्योंकि उन्होंने खुद परीक्षा पास नहीं की है।'

शर्मा ने पंडित दीन दयाल उपाध्याय के बारे में पूछा दीन दयाल उपाध्याय कौन थे? भाजपा की अगुवाई वाली एनडीए सरकार ने क्यों उनकी जयंती मनाई?

ये भी देखें : थरूर बोले संगम में सभी नंगे, बीजेपी ने जो सवाल किया उसका जवाब तो मिलना चाहिए

उनका राष्ट्र के विकास में क्या योगदान था?

उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार ने 5 वर्षों में एक बार भी जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी की न तो जयंती मनाई और न ही पुण्यतिथि। फिर दीन दयाल उपाध्याय की क्यों?

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story