Top

नसीमुद्दीन सिद्दीकी बोले- अगर मायावती का हर राज खोल दूं तो दुनिया में आ जाएगा भूचाल

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 11 May 2017 10:40 AM GMT

नसीमुद्दीन सिद्दीकी बोले- अगर मायावती का हर राज खोल दूं तो दुनिया में आ जाएगा भूचाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नसीमुद्दीन सिद्दिकी हुए हमलावर, कहा- मायावती पर जल्द बड़ा खुलासा करूंगा

लखनऊ: बीएसपी से बर्खास्त नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बसपा सुप्रीमो मायावती पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि मायावती ने चुनाव नतीजों पर मुझसे बात करते हुए मुसलमानों को गद्दार कहा था। दाढ़ी वाले मुसलमानों को गाली (%&%&%) देते हुए कहा कि उन्होंने कभी हमारा कभी साथ नहीं दिया। उन्होंने कहा कि मायावती ने सिर्फ मुसलमानों को नहीं बल्कि धोबी, पासी, कोहार सभी को बुरा भला कहा। नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने मायावती से बातचीत की रिकॉडिंग भी सबको सुनवाई।

नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि मेरी कोई बेनामी संपत्ति नहीं है। पार्टी की बर्बादी के पीछे सतीश चंद्र मिश्रा एंड कंपनी का हाथ है। मुझे सजा दी गई, लेकिन गुनाह का पता ही नहीं है। मायावती के राज खोल दूंगा तो दुनिया में भूचाल आ जाएगा। सतीश मिश्रा ने इस पार्टी को तबाही की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। मिश्रा जी 2003 से पार्टी में हैं और मैं उनसे 20 साल पहले 1983 से पार्टी में हूं। मैं यहां तक कह दूं कि मायावती मुझे मरवा भी सकती हैं। उनके पास कई गिरोह हैं। उनके खिलाफ जो बोले उसके घर मे आग लगवा देंगी। उनके हर गिरोह के सरगना से लेकर एक एक को जानता हूं।

यह भी पढ़ें...बीएसपी ने नसीमुद्दीन सिद्दीकी को बेटे के साथ पार्टी से निकाला, चुनाव में पैसे लेने का आरोप

उनके मुताबिक, तथ्यों को छिपाकर, झूठ फरेब का सहारा लेकर मेरे, बेटे और साथियों पर की गलत कार्रवाई की गई। चुनाव के नतीजे आने के बाद उन्होंने मुझे दिल्ली बुलाकर पूछा कि आखिरकार मुसलमानों ने बीएसपी को वोट क्यों नहीं दिया। मैंने कहा जब सपा और कांग्रेस का गठबंधन नहीं हुआ था तब मुस्लिम वोट बीएसपी के पक्ष में था, लेकिन उसके बाद बंट गया। ऐसा नहीं है कि हमें मुसलमानों को वोट नहीं मिला, लेकिन हां समर्थन कम मिला है। इस जवाब पर उन्होंने मुझे भी गाली दी और कहा कि मैं उन्हें मूर्ख बना रहा हूं।

मायावती ने मांगे थे मुझसे 50 करोड़: नसीमुद्दीन

- मायावती ने एक दिन अकेले घर पर बुलाया और कहा कि 50 करोड़ पार्टी को जरूरत है।

-मैंने कहा कि मेरे पास नहीं हैं तो उन्होंने कहा कि अपनी प्रॉपर्टी बेच दो। तभी पार्टी में आगे बढ़ पाओगे।

-परिवार, नातेदारों और जिसका काम किया उसको बुलाओ। मैनें कहा कि बेचने पर उसका एक चौथाई भी नहीं मिलेगा।

-मायावती ने कहा कि आपके बच्चे और बीवी काम नही आएंगे।

-नाते रिश्तेदारों से कहा पार्टी के लोगो से कहा कि मेरी प्रॉपर्टी बिकवा दो।

-उसी दौरान पत्नी से बात हुई और बताया कि बेटी बीमार है, लेकिन बहन जी ने छुट्टी नहीं दी।

-बहनजी आपको वह कुर्बानी याद नहीं है। आपका सारा केस अपने ऊपर ले लो ले लिया।

-मैं जानता था कि पार्टी से निकाला जाऊंगा, लेकिन छोड़ नहीं सकता था क्योंकि इसे सींचा था।

'हर राज खोल दूं तो आ जाएगा भूचाल'

-ताज कॉरीडोर मामले में मेरी और मायावती की संपत्ति की जांच हुई।

-मेरे खिलाफ कोई गड़बड़ी नहीं मिली, जबकि मायावती की संपत्ति के मामले में जालसाजी मिली।

-सतीश मिश्रा, मायावती और आनंद कुमार की संपत्ति के बारे में मेरे पास 32 सालों का जानकारी है।

-अगर खोल दूंगा तो भारत क्या पूरी दुनिया में भूचाल आ जाएगा।

-उन्होंने कहा कि मुझे पता है कि सुश्री ने क्या-क्या साजिश रची थी।

आगे की स्लाइड में सुनिए, ऑडियो रिकॉर्डिंग...

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story