Top

मानसून सत्र व राष्ट्रपति चुनाव मतदान के पहले दिन बेहद व्यस्त रहेंगे मोदी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 8 July 2017 3:36 PM GMT

मानसून सत्र व राष्ट्रपति चुनाव मतदान के पहले दिन बेहद व्यस्त रहेंगे मोदी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली ब्यूरो : संसद का मानसून आरंभ होने में मात्र एक सप्ताह का वक्त बचा है। 17 जुलाई को पहले दिन ही संसद भवन की गहमागहमी चरम पर रहेगी क्योंकि उसी दिन राष्ट्रपति चुनाव की तारीख व संसद सत्र पहला दिन एक साथ पड़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति के लिए वोटिंग के पहले दिन संसद भवन की लाइब्रेरी बिल्डिंग के ऑडोटोरियम में एनडीए संसदीय दल की बैठक में काफी व्यस्त रहेंगे।

एनडीए संसदीय पार्टी में आकर्षण का केंद्र राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद होंगे। उन्हें इस बैठक में विशेष तवज्जो देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मंच पर बिठाये जाने की संभावना है। पीएम मोदी पहली बार भाजपा व सहयोगी दलों से कोंविंद के पक्ष में वोट व सपोर्ट की औपचारिक अपील करेंगे।

इसके पूर्व सुबह वे भाजपा संसदीय पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने भी संसद सत्र के पहले कामकाज पर चर्चा के लिए सर्वदलीय बैठक उसी दिन बुलाई है। दूसरी ओर लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन भी सभी दलों की नियमित बैठक बुलाएंगी जिसमें सदन को सुचारू तौर पर चलाने के लिए सभी दलों के सहयोग की अपील करेंगीं। 27 दिन तक चलने वाले इस सत्र में सरकार के पास कोई गंभीर एजेंडा नहीं है फिर भी सरकार अपनी ओर से सत्र के सामान्य कामकाज को लेकर पूरी कमर कस रही है।

संसद भवन में लोकसभा व राज्यसभा सदस्यों के बूथ अलग-अलग होंगे। मतदान की गहमागहमी के बीच सदन नहीं चलेगा। हालांकि 17 जुलाई को सुबह 11 बजे लोकसभा की औपचारिक बैठक होगी तथा दिवंगत सांसद व गुरूदासपुर के सांसद व सिने स्टार विनोद खन्ना के सम्मान में लोकसभा नहीं चलेगी। राज्यसभा में भी दिंवगत सदस्य केंद्रीय पर्यावरण राज्य मंत्री अनिल माधव दवे व तेलंगाना से कांग्रेस सांसद पल्लवी जनार्दन रेड्डी की स्मृति में पहले दिन सदन नहीं चलेगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story