Top

ईवीएम छेड़छाड़ मामले में विपक्षी दलों की बैठक आज, 'हैकिंग' पर होगी चर्चा

इलैक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) छेड़छाड़ का मुद्दा तूल पकड़ता ही जा है। इवीएम में गड़बड़ी के मुद्दे पर विभिन्न विपक्षी दलों ने आज बैठक बुलाई है। विपक्ष के नेता दिल्ली के कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में इस मुद्दे को लेकर बैठक करेंगे, जिसमें इवीएम हैकिंग से संबंधित मुद्दे पर चर्चा होगी।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 1 Feb 2019 7:55 AM GMT

ईवीएम छेड़छाड़ मामले में विपक्षी दलों की बैठक आज, हैकिंग पर होगी चर्चा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: इलैक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) छेड़छाड़ का मुद्दा तूल पकड़ता ही जा है। इवीएम में गड़बड़ी के मुद्दे पर विभिन्न विपक्षी दलों ने आज बैठक बुलाई है। विपक्ष के नेता दिल्ली के कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में इस मुद्दे को लेकर बैठक करेंगे, जिसमें इवीएम हैकिंग से संबंधित मुद्दे पर चर्चा होगी। कहा जा रहा है कि बजट पेश होने के बाद यह बैठक होगी।

ईवीएम में छेड़छाड़ को लेकर विपक्ष लंबे समय से सवाल उठा रहा है। विपक्षी नेता चुनाव आयोग से इस मुद्दे पर अपनी आपत्ति भी दर्ज करा चुके हैं। कई दलों ने यह दावा किया है कि दुनिया में केवल कुछ देश ही इलैक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन का इस्तेमाल कर रहे हैं, जबकि अन्य देश इवीएम में छेड़छाड़ की शिकायत के चलते वापस बैलट सिस्टम पर आ चुके हैं।

विपक्ष के आरोपों और दावों के बीच इवीएम हैकिंग मामले पर चुनाव आयोग दो टूक कह चुका है कि बैलेट पेपर के जमाने में नहीं लौटेंगे। बीते दिनों मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बड़ा बयान देते हुए कहा था कि मैं साफतौर पर बता देना चाहता हूं कि हम लोग बैलेट पेपर के जमाने में वापस नहीं जा रहे हैं। हम इवीएम और वीवीपैट से ही चुनाव करवाना जारी रखेंगे।

ये भी पढ़ें...संसद सत्र के बाद विपक्षी लड़ेंगे EVM की लड़ाई, सभी चुनाव बैलेट पेपर से चाहतें है

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story