Top

IAS बनने की राह में जो बने रहे रोड़ा, वे भेजे जा रहे उत्तराखंड

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 26 Sep 2018 1:23 PM GMT

IAS बनने की राह में जो बने रहे रोड़ा, वे भेजे जा रहे उत्तराखंड
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः यूपी के 34 पीसीएस अधिकारियों के आईएएस में प्रमोशन का रास्ता अब साफ हो गया है। बल्कि जिन अफसरों की वजह से इन पीसीएस अफसरों की डीपीसी (विभागीय प्रोन्नति कमेटी) की बैठक रूक रही थी। उनको ही अब उत्तराखंड कैडर में भेजने की कार्रवाई शुरू हो गई है। इन अफसरों में सीनियर पीसीएस अफसर उदयराज यादव और राजेन्द्र यादव शामिल हैं।

उदयराज यादव को हुई थी मनाने की कोशिश

दरअसल, प्रदेश सरकार ने संघ लोक सेवा आयोग और केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय को विभागीय चयन समिति की बैठक कराने के लिए प्रस्ताव भेजा था। उसमें सीनियर पीसीएस अफसर उदयराज यादव का नाम भी शामिल था। पर नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग के मुताबिक इसी बीच उनको उत्तराखंड कैडर आवंटित कर दिया गया था। इसी मामले को लेकर उदयराज यादव सुप्रीम कोर्ट चले गए। जिसकी वजह से पीसीएस से आईएएस में प्रमोशन के लिए प्रस्तावित डीपीसी की बैठक नहीं हो सकी। प्रमोशन की लिस्ट में शामिल अन्य अफसरों ने उदयराज को मनाने की भी कोशिश की। पर वह अपनी मांग पर अड़े रहे।

बहरहाल, बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट ने उनकी रिट को खारिज कर दिया। इसके बाद प्रदेश के नियुक्ति एवं कार्मिक महकमे ने नये सिरे से डीपीसी की बैठक के लिए पत्र केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय को भेजा है और उत्तराखंड कैडर आवंटित किए गए अफसरों उदयराज यादव और राजेंद्र यादव को रिलीव करने की कार्रवाई शुरू कर दी।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story