Top

उद्धव से बोले प्रशांत किशोर- नीतीश कुमार हो सकते हैं पीएम पद के उम्मीदवार

जनता दल यूनाइटेड महासचिव प्रशांत किशोर ने मंगलवार को मुंबई में शिवसेना के नेताओं के साथ मुलाकात की थी। आज उस मुलाकात को लेकर सूत्रों ने बताया कि इस दौरान किशोर ने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से कहा कि बीजेपी के साथ लोकसभा चुनाव में गठबंधन को जारी रखें।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 7 Feb 2019 8:28 AM GMT

उद्धव से बोले  प्रशांत किशोर- नीतीश कुमार हो सकते हैं पीएम पद के उम्मीदवार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: जनता दल यूनाइटेड महासचिव प्रशांत किशोर ने मंगलवार को मुंबई में शिवसेना के नेताओं के साथ मुलाकात की थी। आज उस मुलाकात को लेकर सूत्रों ने बताया कि इस दौरान किशोर ने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से कहा कि बीजेपी के साथ लोकसभा चुनाव में गठबंधन को जारी रखें। उन्होंने कहा कि लोकसभा में किसी को बहुमत ना मिलने पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार पीएम पद के उम्मीदवार हो सकते हैं।

ये भी देखें :दिल्लीः डॉक्टर पूनम वोहरा ने अपने घर में कल रात की खुदकुशी, जांच जारी

प्रशांत ने कहा, किसी को बहुमत ना मिलने और त्रिशंकु लोकसभा की स्थिति में बीजेपी को सरकार बनाने में कठिनाई होगी। ऐसे में 100 से ज्यादा क्षेत्रीय पार्टियों के सांसद जो गैर एनडीए गठबंधन में हैं, वो अपना समर्थन नीतीश कुमार जैसे किसी नेता को गैर कांग्रसी सरकार बनाने के लिए दे सकते हैं।

शिवसेना के हमारे सूत्रों के मुताबिक किशोर ने वाईएसआर कांग्रेस, तेलंगाना राष्ट्र समिति, बीजू जनता दल और एआईएडीएमके जैसी पार्टियों का नाम लिया जो नीतीश का सपोर्ट कर सकती है।

ये भी देखें :राहुल गांधी के साथ कांग्रेस महासचिवों की मीटिंग आज, प्रियंका भी होंगी शामिल

प्रशांत ने इस दौरान पार्टी का चुनाव प्रबंधन भी देखने का प्रस्ताव शिवसेना को दिया है।

उद्धव के साथ ही प्रशांत किशोर ने आदित्य ठाकरे और संजय राउत से मुलाकात की।

आपको बता दें, प्रशांत किशोर इस समय आंध्र में वाईएसआर कांग्रेस के चुनाव प्रबंधन को देख रहे हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story