Top

Presidential Election: यूपी में पूरी हुई राष्ट्रपति चुनाव की तैयारी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 16 July 2017 4:47 PM GMT

Presidential Election: यूपी में पूरी हुई राष्ट्रपति चुनाव की तैयारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के 24 जुलाई को समाप्त हो रहे कार्यकाल के पहले 17 जुलाई को नए राष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान होगा। मतदान के बाद वोटों की गिनती 20 जुलाई को संसद भवन नई दिल्ली में होगी। भारत निर्वाचन आयोग ने राष्ट्र के सर्वोच्च निर्वाचकीय पद के चुनाव को स्वतंत्र एवं निष्पक्ष बनाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए हैं।

ये भी देखें :Presidential Election: मोदी को कोविंद की ‘विराट’ जीत का भरोसा

उत्तर प्रदेश में भी अन्य राज्यों की तर्ज पर 17 जुलाई को राष्ट्रपति पद के लिए विधान सभा सदस्य अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। राष्ट्रपति चुनाव की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। मतदान सुबह 10 से शाम पांच बजे तक होगा। मतदाताओं में संसद के दोनों सदन के निर्वाचित सदस्य और संघ शासित क्षेत्र सहित सभी राज्य की विधान सभाओं के निर्वाचित सदस्य शामिल हैं।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति निर्वाचन के मतदान के लिए समस्त तैयारियां पूरी हो गई हैं। मतदान के लिए सुरक्षा के व्यापक बन्दोबस्त किए गए हैं। भारत निर्वाचन आयोग ने मतदान की निगरानी के लिए अरुण कुमार मेहता, संयुक्त सचिव, भारत सरकार को प्रेक्षक तथा विजय कुमार पांडेय, निदेशक, विधि, भारत निर्वाचन आयोग को विशेष प्रेक्षक नियुक्त किया गया है।

उन्होंने बताया कि सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया की वीडियोग्राफी भी करायी जाएगी। मतदाता द्वारा डाला गया मत गोपनीय रहेगा और किसी भी पोलिंग एजेन्ट को नहीं दिखाया जाएगा। प्रदेश के सदस्य, विधान सभा के मत का मूल्य 208 तथा सभी राज्यसभा और लोक सभा सदस्यों के मत का मूल्य 708 है। मतदाता को अपनी पसन्द के उम्मीदवार के समक्ष वरीयता क्रम 1 व 2 अंकों में अंकित करना होगा, शब्दों में नहीं।

उन्होंने कहा कि चुनाव की समाप्ति के बाद सील मतपेटिकाएं 17 की रात में हवाई जहाज से सहायक रिटर्निग ऑफिसर द्वारा नई दिल्ली ले जाया जाएगा। आयोग के निर्देशों के अनुसार मतदाताओं को मतदेय स्थल के अंदर मोबाइल फोन एवं किसी प्रकार के पेन ले जाने की अनुमति नहीं है। उनके जमा करने की व्यवस्था सहायक रिटर्निग आफिसर द्वारा की गई है। बैलेट पेपर में उम्मीदवार के समक्ष वरीयता का अंकन आयोग द्वारा उपलब्ध कराए गए पेन द्वारा ही किया जाएगा।

आयोग द्वारा पेन सहायक रिटर्निग आफिसर को उपलब्ध करा दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि मतदेय स्थल के अंदर प्रत्याशियों का कोई एक अधिकृत प्रतिनिधि ही एक समय में उपस्थित रह सकता है। मतदाताओं की सुविधा के लिए मतदान कैसे करें सम्बन्धी पोस्टर भी निर्दिष्ट स्थान पर चस्पा किए गए हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story