Top

प्रियंका ने योगी सरकार को लेकर ऐसा क्या कह दिया? उठे सवाल

उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट कर लिखा है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने बिजली के दाम बढ़ाए और बिजली बिल वसूली के नाम पर किसानों को जेल में डाल कर प्रताड़ित किया जा रहा है।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 6 Oct 2019 3:15 PM GMT

प्रियंका ने योगी सरकार को लेकर ऐसा क्या कह दिया? उठे सवाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: बदायूं में किसान की मौत के मामले को लेकर कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने रविवार को प्रदेश की योगी सरकार को निशाना साधा।

उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट कर लिखा है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने बिजली के दाम बढ़ाए और बिजली बिल वसूली के नाम पर किसानों को जेल में डाल कर प्रताड़ित किया जा रहा है।

बदायूं के किसान बृजलाल के साथ घटी घटना निंदनीय है। उनके परिवार को मुआवजा मिले और किसी भी किसान को प्रताड़ित नहीं किया जाए।

लगा था बिजली चोरी का आरोप

तहसील क्षेत्र के जरीफनगर निवासी 40 वर्षीय बृजपाल पर बिजली चोरी की 81947 रुपये बकाया था। विभाग ने तीन नवम्बर 2018 को आरसी बनाकर तहसील भेजी थी।

तहसील प्रशासन ने 23 सितम्बर 2019 को बृजपाल को पकड़कर तहसील की हवालात में बंद कर दिया था। बीते गुरुवार को उसकी हवालात में ही तबीयत बिगड़ गयी थी। 04 अक्टूबर को सीएचसी से जिला अस्पताल ले जाते समय रास्ते में उसकी मौत हो गई थी।

इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सहसवान तहसील संग्रह अनुसेवक समेत दो कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया था, तो वहीं तहसीलदार और नायब तहसीलदार को सहसवान से हटाकर जिला मुख्यालय से सम्बद्ध कर दोनों से स्पष्टीकरण मांगा है। जबकि मृतक के भाई महेश ने आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

झूठे आरोप में फंसाने का आरोप

मृतक के भाई छोटे भाई महेश ने बताया कि सोशल मीडिया में वायरल बृजलाल का वीडियो हिरासत में लेने के दौरान उसने खुद ही बनाकर बताया था कि बिजली विभाग द्वारा दिखायी जा रही आरसी, उनकी न होकर किसी अन्य व्यक्ति की थी। उस व्यक्ति का नाम मिलता-जुलता होने के कारण उन्हें फंसाया गया है।

नोटिस पर कृत्रिम गर्भाधान केन्द्र की दुकान में चोरी से बिजली जलाना दर्शाते हुए उन पर 81947 रुपये का बकाया दिखाया गया जबकि उसने यह भी कहा कि उसकी कोई दुकान नहीं है। वीडियो में उसने नायब तहसीलदार और अमीन पर अपने साथ बदसलूकी का भी आरोप लगाया है।

ये भी पढ़ें...यूपी में बीजेपी सरकार ने बिजली के दाम बढ़ाए: प्रियंका गांधी

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story