Top

झारखंड में रघुबर राज ने पूरे किए 1000 दिन, जश्न का माहौल

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 22 Sep 2017 1:00 PM GMT

झारखंड में रघुबर राज ने पूरे किए 1000 दिन, जश्न का माहौल
X
झारखंड में रघुबर राज ने पूरे किए 1000 दिन, जश्न का माहौल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रांची: राजनीति में संभावनाओं की गुंजाइश बनी रहती है। जिस झारखंड में सरकारों पर काली छाया मंडराती रहती थी,उसी झारखंड की रघुबर सरकार ने अपने 1000 दिन पूरे कर लिए। निश्चित ही रघुबर दार भाग्यशाली है कि उनके नेतृत्व में किसी सरकार ने लगातार इतने अधिक दिन तक आबाध गति से सरकार चलाई। यह उनके लिए तो अच्छा है, ही राज्य के लिए भी हैै। राजनैतिक उठा पटक और जोड़ तोड़ को 2000 से झेलते हुए अब तक इस सूबे ने पूरे 10 मुख्यमंत्री देखे।

ये भी देखें: ये शिव राज है! यहां सत्ता के गलियारे में नजर आते है सिर्फ ‘मीडिया मैनेजर’!

केवल रघुवार दास ही इतने भाग्यशाली थे कि 1000 दिनों का रि​कार्ड बनाया। इससे पहले प्रदेश में कोई भी सरकार इतने लंबे समय तक सत्ता में नहीं रह सकी है। रघुवर दास के इस 1000 दिन के कार्यकाल के पहले प्रदेश में सबसे अधिक दिन तक सीएम बने रहने का मौका अर्जुन मुंडा को मिला है जो 860 दिन का कार्यकाल पूरा कर चुके हैं।

ये भी देखें: गुरदासपुर उपचुनाव : जाखड़, सलारिया ने किया नामांकन, खन्ना का नामलेवा नहीं

बाबू लाल मरांडी जिन्होंने सीएम के रूप में 852 दिन का कार्यकाल पूरा किया था। शुक्रवार को रघुबर दास प्रदेश के पहले ऐसे मुख्यमंत्री बन गए जिन्होंने 1000 दिन पूरे किए। इस खास मौके पर सीएम रघुबर दास सुबह राजभवन पहुंचे और राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू को अपने 1000 दिनों के कामकाज का लेखा-जोखा सौंपा। इन 17 वर्षों में झारखंड में तीन बार राष्ट्रपति शासन भी लग चुका है। प्रदेश में सबसे कम समय तक मुख्यमंत्री शिबू सोरेन रहे हैं जो कि वर्ष 2005 में सिर्फ 10 दिन के लिए सीएम बने थे।

प्रदेश की भाजपा सरकार 1000 दिन का जश्न मनाने में जुटी है।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story