Top

राहुल गांधी के अध्‍यक्ष बनते ही युवाओं का बढ़ेगा कद ! दिग्गजों को आराम

कांग्रेस में राहुल गांधी के कमान संभालने के बाद संगठन में बदलाव होने के कयास लगाए जा रहे हैं। कांग्रेस की युवा पीढ़ी में राहुल के अध्यक्ष बनने को लेकर खासा उत्साह है। कमान

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 4 Dec 2017 11:39 AM GMT

राहुल गांधी के अध्‍यक्ष बनते ही युवाओं का बढ़ेगा कद ! दिग्गजों को आराम
X
राहुल गांधी के अध्‍यक्ष बनते ही युवाओं का बढ़ेगा कद ! दिग्गजों को आराम
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ:कांग्रेस में राहुल गांधी के कमान संभालने के बाद संगठन में बदलाव होने के कयास लगाए जा रहे हैं। कांग्रेस की युवा पीढ़ी में राहुल के अध्यक्ष बनने को लेकर खासा उत्साह है। कमान संभालने के बाद कांग्रेस में जारी बदलाव की प्रक्रिया के और तेज होने की संभावना जताई जा रही है। सीधे तौर पर कहा जाय तो कांग्रेसी यूथ की संभावनाएं बढ़ गई है।उन्हे ज्यादा बैटिंग करने का मौका मिलने की उम्मीद है।जाहिर तौर पर बदलाव में आउटडेटेड नेता किनारे भी किए जा सकते हैं।आंतरिक लोकतांत्रिक प्रक्रिया के जरिये युवा चेहरों को सामने लाना।ऐसी संभावना इसलिए भी जताई जा रही है कि राहुल जब उपाध्यक्ष बने तब से अब तक कई युवा चेहरे कांग्रेस की राजनीति में अपने आप को स्थापित कर बेहतर परफामेंस दे रहें है।

यूपी, महाराष्ट, गुजरात,जेके और उत्तराखंड एमपी से कई ऐसे नेता जिन्हे से सीधे पार्टी की मेन स्टीम में सचिव या अन्य महत्व पूर्ण पदों पर कार्य करने का अवसर मिला। इनमें अमरोली (गुजरात) से विधायक परेश धनानी, मध्य प्रदेश से विधायक जीतू पटवारी (इन्हें सचिव बनाया गया है) और उत्तराखंड से विधायकी का चुनाव हार चुके प्रकाश जोशी जैसे नेता शामिल हैं।

एनएसयूआई के मौजूदा अध्यक्ष फिरोज खान (जम्मू-कश्मीर) और पूर्व अध्यक्ष रोजी जॉन राहुल गांधी द्वारा अमल में लाए गए आंतरिक लोकतांत्रिक प्रक्रिया के जरिये ही अपनी जमीन तैयार करने में सफल रहे।हिंगोली (महाराष्ट्र) से सांसद और यूथ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राजीव साटव और इस संगठन के मौजूदा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा उर्फ राजा बरार भी इसी प्रक्रिया से होकर गुजरे हैं।राहुल के वर्ष 2013 में उपाध्यक्ष बनने के बाद आंतरिक लोकतंत्र की प्रक्रिया को और आगे बढ़ाया गया।इसी तरह यूपी में कांग्रेस नेता आराधना मिश्रा मोना प्रतापगढ़ की रामपुर खास सीट से विधायक हैं तो रायबरेली से अदिती सिंह और वाराणसी से लवलेशपति त्रिपाठी जैसे युवाओं का कद बढ़ सकता है।

नई पीढ़ी के नेताओं में रणदीप सिंह सुरजेवाला (कांग्रेस के मीडिया प्रमुख), सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, जितिन प्रसाद, अजय माकन, सचिन पायलट, मिलिंद देवड़ा जैसे नेता हैं। सिलचर से सांसद और महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव को भी राहुल की कोर टीम में जगह देने की संभावना है।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story