Top

राहुल गांधी होंगे नए कांग्रेस अध्यक्ष, जल्द लग सकती है मुहर

कांग्रेस नेता राहुल गांधी एक बार फिर से पार्टी के अध्यक्ष बन सकते हैं। बताया जा रहा है कि राहुल गांधी मार्च के आखिरी में या फिर अप्रैल में दोबार पार्टी की अध्यक्षता संभाल सकते हैं।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 13 Feb 2020 8:54 AM GMT

राहुल गांधी होंगे नए कांग्रेस अध्यक्ष, जल्द लग सकती है मुहर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी एक बार फिर से पार्टी के अध्यक्ष बन सकते हैं। बताया जा रहा है कि राहुल गांधी मार्च के आखिरी में या फिर अप्रैल में दोबार पार्टी की अध्यक्षता संभाल सकते हैं। पार्टी नेतृत्व ने उन्हें दोबारा लॉन्च करने की तैयारियां पूरी कर ली है। चूंकि पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की सेहर खराब चल रही है, इसलिए अभी वो राजनीति में सक्रिय नहीं हैं। ऐसे में राहुल को एक बार फिर से अध्यक्ष बनाने के लिए पार्टी अधिवेशन बुलाएगी। ऐसा माना जा रहा है इस दौरान राहुल गांधी के नाम पर मुहर लग जाएगी।

यह भी पढ़ें: रोमियो से डरा पाकिस्तान: 2 सेकेंड में इनकी सेना को, जल्द आ रहा भारत में

लोकसभा चुनाव के बाद दिया था इस्तीफा

बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पिछले साल 2019 में लोकसभा चुनाव में पार्टी को हार मिलने क बाद 25 मई को कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक में अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। इस दौरान पार्टी के नेताओं ने उन्हें ऐसा करने से मना किया और उन्हें मनाने की भी कोशिश की लेकिन उन्होंने पार्टी नेताओं की बात नहीं मानी और 3 जुलाई को इस्तीफे से जुड़ी चिठ्ठी ट्विटर पर पोस्ट कर दी। जिसके बाद उनका इस्तीफा ऑफिशियल हो गया।

यह भी पढ़ें: अभी-अभी यूपी में बड़ा हादसा: तालाब में गिरी सवारियों से भरी गाड़ी, कईयों की मौत

क्या कहा था राहुल गांधी ने...

इस चिट्ठी में उन्होंने लिखा था कि पार्टी अध्यक्ष के नाते हार के लिए मैं पूरी तरह से जिम्मेदार हूं, इसलिए मैं अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा हूं। कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) को जल्द से जल्द बैठक बुलाकर नए अध्यक्ष का चुनाव करना चाहिए। बता दें कि पार्टी अध्यक्ष के तौर पर राहुल गांधी की ताजपोशी दिसंबर 2017 में हुई थी। वहीं इसके बाद सोनिया गांधी को पार्टी का अंतरिम अध्यक्ष बनाया गया। 11 अगस्त को CWC में हुई बैठक में यह फैसला लिया गया।

यह भी पढ़ें: वैलेंटाइन डे स्पेशल: ऐसे करे पार्टनर को किस, खास हो जाएगा आपका दिन

सोनिया गांधी भी नहीं थी राजी...

पहले सोनिया गांधी ने भी इससे इनकार कर दिया था, लेकिन पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की गुजारिश के बाद उन्होंने अध्यक्ष पद की संभालने के लिए हामी भर दी। सोनिया गांधी इससे पहले 1998-2017 तक पार्टी की कमान संभाल चुकी हैं। हालांकि, पिछले कुछ महीनों से उनकी सेहत काफी खराब है।

सक्रिय राजनीति से दूर हैं सोनिया गांधी

बीते 2 फरवरी को पेट दर्द की शिकायत के बाद उन्हें दिल्ली के गंगाराम हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। हालत खराब होने की वजह से वो राजनीति में कम ही सक्रिय हैं। हाल ही में हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार में भी वे नजर नहीं आईं थीं।

यह भी पढ़ें: निर्भया के दोषियों को कब मिलेगी फांसी? फिर मिली नई तारीख

Shreya

Shreya

Next Story