×

Congress President: राहुल गांधी कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष बनने को तैयार नहीं, जल्द जारी होने वाला है चुनाव का शेड्यूल

Congress President: देश के सबसे बड़े विपक्षी दल कांग्रेस में लंबे समय से अध्यक्ष के चुनाव का मामला लटका हुआ हैं, और लंबे समय से पार्टी अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के सहारे ही अपनी सारी गति विधियों को अंजाम दे रही है।

Anshuman Tiwari
Updated on: 3 Aug 2022 7:23 AM GMT
Congress President Election
X

Priyanka Gandhi, Rahul Gandhi and Sonia Gandhi (image social media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Congress President Election: देश के सबसे बड़े विपक्षी दल कांग्रेस में लंबे समय से अध्यक्ष के चुनाव का मामला लटका हुआ है। लंबे समय से पार्टी अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के सहारे ही अपनी सारी गति विधियों को अंजाम दे रही है। पार्टी के असंतुष्ट खेमे की ओर से करीब दो साल पूर्व इस बाबत पार्टी नेतृत्व को चिट्ठी लिखी गई थी मगर अभी तक पार्टी अध्यक्ष की तलाश पूरी नहीं हो सकी है। पार्टी के संगठनात्मक चुनाव की प्रक्रिया 20 अगस्त को पूरी होने वाली है।

उसके बाद 20 सितंबर तब पार्टी के नए अध्यक्ष के चुनाव का शेड्यूल जारी होना है। ऐसे में नए अध्यक्ष के चुनाव को लेकर पार्टी में एक बार फिर सुगबुगाहट तेज होती दिख रही है। हालांकि कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी इस जिम्मेदारी को फिर संभालने के लिए तैयार नहीं है। ऐसे में आने विकल्पों पर भी विचार किया जा रहा है।

राहुल गांधी ने फिर किया इनकार

लंबे समय से कांग्रेस में नए अध्यक्ष के चुनाव की गुत्थी उलझी हुई है। इसे लेकर पार्टी में सवाल उठते रहे हैं मगर अभी तक पार्टी के नए अध्यक्ष की तलाश का काम पूरा नहीं हो सका है। जानकार सूत्रों का कहना है कि कुछ समय पहले अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने इस बाबत राहुल गांधी से चर्चा की थी और उनकी राय जानने की कोशिश की थी।

कुछ दिनों तक सोच विचार करने के बाद राहुल गांधी ने एक बार फिर पार्टी के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभालने से इनकार कर दिया है। ऐसे में नए अध्यक्ष को लेकर फिर पेंच फंसता दिख रहा है। पार्टी को जल्द ही कई राज्यों में विधानसभा चुनाव लड़ने हैं। हिमाचल प्रदेश और गुजरात में तो इसी साल चुनाव होने वाला है मगर पार्टी अभी तक अपने अध्यक्ष के चुनाव की गुत्थी नहीं सुलझा सकी है।

सीएम की कुर्सी नहीं छोड़ना चाहते गहलोत

वैसे अध्यक्ष पद को लेकर कांग्रेस के कई नेता अभी भी राहुल गांधी को मनाने की कोशिश में जुटे हुए हैं। राहुल के अभी तक के रुख को देखते हुए उनका अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभालना काफी मुश्किल माना जा रहा है। नए अध्यक्ष के रूप में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का नाम भी उछला हुआ है मगर वे राजस्थान के मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी नहीं छोड़ना चाहते।

राजस्थान में अगले साल विधानसभा चुनाव होना है। पार्टी के संकट के दिनों में भी गहलोत ने राजस्थान में कुशल नेतृत्व का परिचय देते हुए अपनी सरकार बचाने में कामयाबी हासिल की थी। हाल में हुए राज्यसभा चुनाव में भी उन्होंने भाजपा को बड़ा झटका देते हुए कांग्रेस के तीनों उम्मीदवारों को जिताया था। ऐसे में माना जा रहा है कि पार्टी उन्हें राजस्थान से हटाने का जोखिम शायद नहीं उठाएगी।

प्रियंका गांधी की भी हो रही वकालत

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि प्रियंका गांधी का नाम भी नए अध्यक्ष के रूप में उछला हुआ है मगर राहुल गांधी खुद उनके नाम पर तैयार नहीं बताए जा रहे हैं। राहुल गांधी गांधी परिवार से इतर किसी नेता को यह जिम्मेदारी सौंपे जाने के पक्ष में हैं। प्रियंका ने खुलकर अभी तक इस मुद्दे पर अपना रुख स्पष्ट नहीं किया है।

प्रियंका कांग्रेस की गतिविधियों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेती रही हैं मगर सोनिया की ओर से उन्हें यह जिम्मेदारी सौंपी जाएगी या नहीं, यह बात अभी तक स्पष्ट नहीं हो सकी है। हालांकि राहुल गांधी के न मानने की स्थिति में कुछ नेताओं की ओर से प्रियंका की वकालत भी की जा रही है।

लंबे समय से उलझा हुआ मामला

कांग्रेस के संगठनात्मक चुनाव की प्रक्रिया 20 अगस्त को पूरी होने वाली है। कांग्रेस की चुनाव समिति के मुखिया मधुसूदन मिस्त्री भी आज दिल्ली पहुंचने वाले हैं। जानकारों के मुताबिक 20 अगस्त को चुनाव की प्रक्रिया पूरी होने के बाद 20 सितंबर तक नए अध्यक्ष के चुनाव का शेड्यूल जारी होना है। माना जा रहा है कि दिल्ली पहुंचने के बाद मिस्त्री इस बाबत कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से चर्चा करेंगे।

ऐसे में पार्टी के नए अध्यक्ष को लेकर अभी तक तस्वीर साफ नहीं हो सकी है। कांग्रेस का एक खेमा लंबे समय से पार्टी में सक्रिय अध्यक्ष की नियुक्ति की मांग करता रहा है। पहले पार्टी नेतृत्व की ओर से कोरोना महामारी की आड़ में अध्यक्ष के चुनाव को टाल दिया गया था मगर अब तक यह मामला सुलझता नहीं दिख रहा है। ऐसे में सबकी निगाहें इस बात पर टिकी हुई है कि क्या पार्टी आगे भी अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के सहारे ही चलती रहेगी।

Prashant Dixit

Prashant Dixit

Next Story