×

Raj Thackeray Ayodhya Yatra: अब राजठाकरे के विरोध में एनडीए का घटक दल JDU भी उतरा मैदान में

UP News Today: भाजपा सांसद ब्रजभूषण षरण सिंह उनकी यात्रा के विरोध में लामबंदी कर रहे हैं वही एनडीए(NDA) के घटक दल जनता दल यू(JDU) ने भी ब्रजभूषण शरण सिंह का समर्थन किया है।

Shreedhar Agnihotri
Updated on: 17 May 2022 3:54 AM GMT
raj thackeray
X

राज ठाकरे(फोटो-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Raj Thackeray Ayodhya Yatra: महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राजठाकरे (Raj Thackeray) की प्रस्तावित अयोध्या यात्रा (Ayodhya Yatra) को लेकर उठा विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। उनकी इस यात्रा को लेकर राजनीति में धडेबाजी लगातार जारी है। जहां भाजपा सांसद ब्रजभूषण षरण सिंह उनकी यात्रा के विरोध में लामबंदी कर रहे हैं वही एनडीए(NDA) के घटक दल जनता दल यू(JDU) ने भी ब्रजभूषण शरण सिंह का समर्थन किया है। वहीं दूसरी तरफ पार्टी के स्थानीय सांसद लल्लू सिंह(Lallu Singh) और भाजपा नेत्री अपर्णा यादव (Aparna Yadav) राज ठाकरे के समर्थन में है।

जद (यू) प्रवक्ता के.सी. त्यागी ने कहा उन्होंने सिंह के अभियान को अपनी पार्टी का समर्थन देने के लिए उनसे बात की। उन्होंने साथ ही कहा कि जदयू के सदस्य ठाकरे का लखनऊ हवाई अड्ड़े से अयोध्या की यात्रा (Ayodhya Yatra) के दौरान 'उचित स्वागत करने के लिए भाजपा सांसद का साथ देंगे। जो उत्तर प्रदेश के अपने क्षेत्र के एक प्रभावशाली नेता हैं। त्यागी ने कहा ठाकरे को वापसी टिकट लेकर लखनऊ हवाईअड्ड़े आना चाहिए।

राजठाकरे अयोध्या आना चाह रहे

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री राजठाकरे के चचरे भाई राजठाकरे अयोध्या(Ayodhya Yatra) आना चाह रहे हैं पर उनके पूर्व में यूपी के लोगों के बारे में दिए गए अमर्यादित बयान को लेकर भाजपा सांसद ब्रजभूषण सिंह लगातार विरोध कर रहे हैं।

वहीं दूसरी तरफ सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने राज ठाकरे के अयोध्या आने के फैसले का स्वागत तो किया है, लेकिन यह भी कहा है कि वह रामलला के दर्शन करें, क्योंकि श्रीराम सबके लिए पूजनीय हैं। लेकिन जब ठाकरे अयोध्या से घर लौटें, तो यह कसम खाएं कि आज के बाद यूपीवासियों या उत्तर भारतीयों पर पहले की तरह कोई अभद्र टिप्पणी नहीं करेंगे।

अब देखना है कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राजठाकरे इतने विवादों के बीच अपनी अयोध्या यात्रा स्थगित करते हैं अथवा टकराव के बीच रामलला के दर्शन करने पांच जून को अयोध्या आएगें।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story