Top

राज ठाकरे के समर्थन में आई बीजेपी कहा- MNS पार्षदों की खरीद फरोख्त की हो ED जांच

Gagan D Mishra

Gagan D MishraBy Gagan D Mishra

Published on 16 Oct 2017 9:15 AM GMT

राज ठाकरे के समर्थन में आई बीजेपी कहा- MNS पार्षदों की खरीद फरोख्त की हो ED जांच
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के पार्षदों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाते हुए इसकी जांच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से कराने की मांग की है। इससे पहले रविवार को एमएनएस अध्यक्ष राज ठाकरे ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पर एमएनएस पार्षदों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया था।

यह भी पढ़ें...राज ठाकरे का आरोप- शिवसेना ने 5-5 करोड़ में खरीदे MNS के पार्षद

राज ठाकरे ने रविवार को अपनी प्रतिद्वंद्वी शिवसेना पर तीन दिन पहले बृहन्मुंबई नगर निगम के उसके सात में से छह पार्षदों को पांच-पांच करोड़ में खरीदने का आरोप लगाया था।

भारतीय जनता पार्टी के मुंबई से सांसद किरीट सोमैया ने सोमवार को शिवसेना द्वारा एमएनएस के छह पार्षदों की 'खरीद फरोख्त' के संबंध में प्रवर्तन निदेशालय के संयुक्त निदेशक सत्यव्रत कुमार को इस मामले में 'भ्रष्टाचार, धन-शोधन, लोकतंत्र विरोधी व अन्य अनियमितता पर कार्रवाई करने के लिए' पत्र लिखा।

सोमैया ने ईडी से आग्रह करते हुए लिखा, "हम जांच का आग्रह करते हैं। जांच पूरी होने तक सभी एमएनएस पार्षदों पर निगरानी रखी जाए और इनकी कार्रवाइयों पर रोक लगाई जाए।"

उन्होंने राज ठाकरे का हवाला देते हुए कहा कि यह शिवसेना द्वारा धनशोधन का मामला है और सभी छह एमएनएस पार्षदों में से प्रत्येक को पांच-पांच करोड़ रुपये में खरीदा गया है।

सोमैया ने इस मामले में पुष्पक बुलियन के चंद्रकांत पटेल और शिवसेना व एमएनएस पार्षदों के बीच 'हवाला लेन-देन' की ओर भी इशारा किया।

उन्होंने कहा कि पटेल को ईडी द्वारा धनशोधन मामले में कुछ दिन पहले ही गिरफ्तार किया गया था, जिसमें कथित रूप से पटेल, शिवसेना और उसके नेताओं के बीच ऐसे ही लेन-देन का पता चला था।

महाराष्ट्र में 13 अक्टूबर को एक बड़े राजनीतिक घटनाक्रम में एमएनएस के छह पार्षद शिवसेना में शामिल हो गए थे। इससे तिलमिलाई एमएनएस ने पार्षदों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाकर महाराष्ट्र राज्य चुनाव आयुक्त, महाराष्ट्र भ्रष्टाचार-निरोधक ब्यूरो और कोंकण विकास आयुक्त के पास शिकायत दर्ज कराई थी।

यह भी पढ़ें...राज ठाकरे को झटका: मनसे के 6 पार्षदों ने थामा शिवसेना का हाथ

बीएमसी में एमएनएस के पास अब केवल एक पार्षद बचा है। एमएनएस अध्यक्ष राज ठाकरे ने रविवार को अपने चचेरे भाई उद्धव ठाकरे पर 'नीच राजनीति' करने एवं पार्षदों को खरीदने का आरोप लगाया था।

--आईएएनएस

Gagan D Mishra

Gagan D Mishra

Next Story