Top

Rajasthan Elections: राहुल गांधी ने PM पर बोला जुबानी हमला, पूछा- किस प्रकार के हिंदू हैं 'मोदी'

आज कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी राजस्थान के दौरे पर हैं। सबसे पहले वह उदयपुर में कारोबारियों से रूबरू हुए। यहां उन्होंने पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने पीएम मोदी को हिंदुत्व के मुद्दे पर घेरते हुए कहा कि वह किस तरह के हिंदू हैं।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 1 Dec 2018 7:31 AM GMT

Rajasthan Elections: राहुल गांधी ने PM पर बोला जुबानी हमला, पूछा- किस प्रकार के हिंदू हैं मोदी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: विधानसभा चुनाव के लिए मतदान की तारीख नजदीक आते ही कांग्रेस पार्टी बीजेपी के प्रति और भी ज्यादा हमलावर हो गई है। कांग्रेस पार्टी राजस्थान के अंदर चुनाव जीतने के लिए कोई भी मौक़ा हाथ से गंवाना नहीं चाहती है।

इसी कड़ी में आज कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी राजस्थान के दौरे पर हैं। सबसे पहले वह उदयपुर में कारोबारियों से रूबरू हुए। यहां उन्होंने पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने पीएम मोदी को हिंदुत्व के मुद्दे पर घेरते हुए कहा कि वह किस तरह के हिंदू हैं।

राहुल ने कहा, हिंदुत्व का सार क्या है? गीता में क्या कहा गया है? इसका ज्ञान हर किसी को है, हर जगह ज्ञान फैला हुआ है। हर जीवित वस्तु के अंदर ज्ञान है। हमारे पीएम कहते हैं कि वह हिंदू हैं लेकिन वह हिंदुत्व की नींव को नहीं समझते। वह किस तरह के हिंदू हैं?

राहुल ने कहा, यूपीए सरकार के समय एनपीए दो लाख करोड़ रुपये था, मोदी सरकार के चार साल में एनपीए 12 लाख करोड़ रुपये हो गया। मोदी सरकार ने उद्योगपतियों का कर्ज माफ किया। कुल 15 उद्योगपतियों का कर्जा माफ किया गया है, ये सरकार करोड़ों हिदुस्तानियों का कर्ज क्यों नहीं माफ करती है। बड़े लोगों का कर्जा छुपाकर माफ किया जा रहा है।



ये भी पढ़ें...राहुल ने मोदी से पूछा- जय शाह- ‘जादा’ खा गया, आप चौकीदार थे या भागीदार?

उन्होंने कहा, नोटबंदी और जीएसटी के बारे में हिन्दुस्तान की जनता भ्रमित है। नोटबंदी एक स्कैम है। इसका लक्ष्य छोटे उद्योगों की रीढ़ की हड्डी को तोड़ना था। चाहे नोटबंदी हो या गब्बर सिंह टैक्स, इनका लक्ष्य बड़ी-बड़ी कंपनियों का रास्ता खोलना था। इसका मकसद था कि हिंदुस्तान के बड़े 15 उद्योगपतियों को मौका दिया जाए।

राहुल ने कहा कि यह एक गलत धारणा है कि प्राइवेट सेक्टर एजुकेशन संस्थान बेहतर हैं। इस देश को सरकारी हेल्थकेयर सेवाओं के बिना नहीं चलाया जा सकता। हिंदुस्तान के सबसे बेहतरीन संस्थान सरकारी हैं।

सर्जिकल स्ट्राइक के मुद्दे पर राहुल ने कहा कि मोदी सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक को राजनीतिक बना दिया। मोदी सरकार ने इसका फायदा उठाया। मनमोहन सिंह सरकार ने तीन बार सर्जिकल स्ट्राइक की, क्या आपको इसकी जानकारी है?

ये भी पढ़ें...राहुल ने मोदी पर साधा निशाना, कहा- सरकार के पास नहीं जनता के लिए टाइम

7 दिसंबर को मतदान

बता दें कि राजस्थान में 7 दिसंबर को मतदान होना है। मतगणना बाकी राज्यों के साथ 11 दिसंबर को होगी। इस बार भी यहां मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है। सीएम वसुंधरा राजे इस बार अकेले ही कई चुनौतियों से जूझ रही हैं। वहीं, कांग्रेस कद्दावर नेताओं की एकजुटता के दम पर मैदान में उतरी है। सचिन पायलट और अशोक गहलोत के अलावा के बड़े नेता चुनाव लड़ रहे हैं।

ये भी पढ़ें...राहुल ने मोदी से पूछा- ‘मौन साहब’ भ्रष्टाचार के आरोपों पर कब देंगे जवाब?

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story