Top

क्रिकेटर रविन्द्र जड़ेजा की पत्नी ने बीजेपी संग शुरू की राजनैतिक पारी

भारतीय क्रिकेटर रविंद्र जड़ेजा की पत्नी रिवाबा जड़ेजा भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गई हैं। जामनगर में गुजरात के कृषि मंत्री आरसी फालडू और सांसद पूनम मदाम की उपस्थित में रिवाबा ने 'कमल' को अपने हाथों में थामा। गौरतलब है कि पि​छले पांच महीने से वो गुजरात महिला करणी सेना के अध्यक्ष पद पर कार्यरत हैं।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 March 2019 7:18 AM GMT

क्रिकेटर रविन्द्र जड़ेजा की पत्नी ने बीजेपी संग शुरू की राजनैतिक पारी
X
फ़ाइल फोटो
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जामनगर: भारतीय क्रिकेटर रविंद्र जड़ेजा की पत्नी रिवाबा जड़ेजा भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गई हैं। जामनगर में गुजरात के कृषि मंत्री आरसी फालडू और सांसद पूनम मदाम की उपस्थित में रिवाबा ने 'कमल' को अपने हाथों में थामा। गौरतलब है कि पि​छले पांच महीने से वो गुजरात महिला करणी सेना के अध्यक्ष पद पर कार्यरत हैं।

ये भी देखें :Its Happens only In India ! एक जिद जिसने बदल दी गांव की तस्वीर

बीते साल रिवाबा उस समय सुर्खियों में आयी थी जब ए​क कार दुर्घटना के कारण पुलिस कांन्सटेबल से हाथापाई ​हो गयी थी और इस मामले में पुलिस ​कांस्टेबल सजाय अहिर को गिरफ्तार भी किया गया था। जामनगर जिले के पुलिस अधिक्षक प्रदीप सेजुल ने बताया कि रिवाबा की कार की टक्कर कांस्टेबल की बाइ​क से हो गई थी जिसके बाद कांस्टेबल को गिरफ्तार कर लिया गया था।

ये भी देखें :कांग्रेस-बीजेपी की काट के लिए बसपा ने खेला ब्राह्मण कार्ड

रिवाबा जड़ेजा अपना ज्यादातर वक्त राजकोट ​और जामनगर में ही बिता​ती हैं। उनके भाजपा ज्वाइन करने के मौके पर जामनगर के भाजपा ​प्रेसिडेंट ने कहा कि रिवाबा के भाजपा में शामिल ​होने से पार्टी को काफी फायदा होगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story