Top

मुसलमानों से रुपए लेकर कहीं और बना ले श्रीराम मंदिर : माविया अली

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 16 Feb 2018 5:01 PM GMT

मुसलमानों से रुपए लेकर कहीं और बना ले श्रीराम मंदिर : माविया अली
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सहारनपुर : अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण को लेकर देशभर में छिड़ी जंग के बीच देवबंद के पूर्व विधायक माविया अली ने बेहद ही तीखा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि यदि मंदिर मस्जिद का हल पैसा लेकर निकल सकता है, तो मंदिर पक्ष यानि कि हिंदू मुसलमानों से रुपया लेकर श्रीराम मंदिर का निर्माण किसी अन्यंत्र स्थान पर करा लें। जितने पैसे की जरुरत होगी, उससे ज्यादा रुपया देश का मुसलमान बाबरी मस्जिद के लिए देने को तैयार है।

मौलाना सलमान नदवी पर हजारों करोड़ रुपए की रिश्वत मांगने के आरोपों को देवबंद के पूर्व विधायक माविया अली ने संघ की देन बताया है। पूर्व विधायक ने कहा कि देश का मुसलमान मस्जिद का सौदा नहीं कर सकता। यदि मंदिर मस्जिद विवाद का हल रुपयों से हो सकता है तो जितना रुपया मांगने का आरोप लगाया जा रहा है, मुल्क का मुसलमान उससे ज्यादा रुपया देने को तैयार है। जिसके बाद मंदिर पक्ष को रुपया लेकर कहीं और राम मंदिर बना लेना चाहिए।

ये भी देखें :‘बाबरी मस्जिद की जगह मंदिर कोई मुसलमान बर्दाश्त नहीं करेगा’

बाबरी मस्जिद और श्रीराम मंदिर के विवाद को कोर्ट के बाहर सुलझाए जाने का फॉर्मूला लगातार चल रहे आरोप प्रत्यारोप के बाद ठंडे बस्ते में जाता दिखाई दे रहा है। डा. अमरनाथ मिश्र द्वारा मौलाना सलमान नदवी पर हजारों करोड़ रुपए की रिश्वत मांगने के आरोप लगाए गए थे। इन आरोपों को खारिज करते हुए पूर्व विधायक माविया अली ने कहा कि उनका मानना है कि मौलाना सलमान नदवी संघ के षड़यंत्र का शिकार हुए हैं। अब उन्हें मौलाना अरशद मदनी की सलाह मानते हुए अपनी गलती का अहसास कर लेना चाहिए।

विवादित बोल के लिए प्रसिद्ध पूर्व विधायक माविया अली ने कहा कि अगर बाबरी मस्जिद और मंदिर का निर्णय कोर्ट के बाहर होना है तो देश का मुसलमान अमरनाथ मिश्र को उनका ही आॅफर दो गुणा करके दे रहा है। जिसके बाद वह भगवान राम का मंदिर देश में कहीं भी बना सकते हैं।

अली ने कहा कि देश का कोई भी मुसलमान मस्जिद का सौदा नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि मस्जिद अल्लाह का घर है जिसे बेंचा नहीं जा सकता। माविया अली ने कहा कि अमरनाथ मिश्र द्वारा मस्जिद की जगह छोड़ने को पांच हजार करोड़ और दो सौ एकड़ जमीन देने के आॅफर के बदले मुस्लिम पक्ष उन्हें पांच लाख करोड़ रुपए और देश में दो हजार एकड़ जमीन देने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि देश के आलिमों के लिए राज्यसभा बहुत तुच्छ चीज है। इसलिए मौलाना नदवी पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story