Top

मुलायम के करीबी मंत्री का टिकट कटा, कल ही लखनऊ सेंट्रल से भरा था नामांकन

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 31 Jan 2017 6:34 AM GMT

मुलायम के करीबी मंत्री का टिकट कटा, कल ही लखनऊ सेंट्रल से भरा था नामांकन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में 7 फेज में होने वाले विधानसभा चुनाव की सरगर्मी दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। नामांकन दाखिल करने के बाद भी उम्मीदवार का टिकट कट रहा है। लखनऊ सेंट्रल सीट के साथ कुछ ऐसा ही हुआ है। सोमवार को मुलायम के करीबी रविदास मेहरोत्रा ने लखनऊ सेंट्रल से सपा उम्मीदवार के तौर पर नामांकन भरा था, लेकिन अगले ही दिन मंगलवार को उनका टिकट कट गया।

लखनऊ सेंट्रल सीट से अब मेहरोत्रा की जगह कांग्रेस के मारूफ खान को गठबंधन का उम्मीदवार बनाया गया है। बता दें कि सोमवार को समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने लखनऊ में साथ मिलकर रोड शो किया था। तब तक रविदास मेहरोत्रा की उम्मीदवारी को लेकर कोई कन्फ्यूजन नहीं था। रोड शो के दौरान मेहरोत्रा ने कांग्रेस से गठजोड़ का समर्थन भी किया था। रविदास मेहरोत्रा अखिलेश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री हैं और मुलायम सिंह यादव के करीबी माने जाते हैं।

'नहीं कटा टिकट'

वहीं, रविदास मेहरोत्रा का इस मामले पर कहना है कि पार्टी ने उनका टिकट नहीं काटा है. मेहरोत्रा ने इस सीट के कांग्रेस के खाते में जाने को महज अफवाह बताया। उनके मुताबिक वो पहले ही इस सीट से नामांकन भर चुके हैं और अगर उनकी उम्मीदवारी रद्द होती तो पार्टी उन्हें जरूर बताती।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story