Top

पार्टी कार्यालय के भीतर और बाहर भिड़ंत, मुख्यमंत्री समर्थकों और विरोधियों में हुई मारपीट

हालात इतने खराब हो गए कि दोनों के समर्थक आपस में लड़ पड़े और जमकर मारपीट हुई। कहा जाता है कि विधायक आशू मलिक जो मुलायम के कट्टर समर्थक माने जाते हैं उन्होंने अखिलेश को धक्का दे दिया जिससे उनके समर्थक उग्र हो गए।इसके बाद मारपीट शुरू हो गई।

zafar

zafarBy zafar

Published on 24 Oct 2016 7:26 AM GMT

पार्टी कार्यालय के भीतर और बाहर भिड़ंत, मुख्यमंत्री समर्थकों और विरोधियों में हुई मारपीट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने बेटे ओर सीएम अखिलेश यादव और भाई शिवपाल यादव को गले तो मिलवा दिया लेकिन बर्फ पिघलती दिखाई नहीं। मुलायम, शिवपाल और अखिलेश के भावुक भाषण के बाद भी हालात सामान्य नहीं होते दिखाई नहीं दे रहे हैं।

भिड़ गए समाजवादी

-समाजवादी पार्टी की मीटिंग के दौरान बाहर कार्यकर्ताओं का हुजूम था।

-मीटिंग में शिवपाल और अखिलेश यादव के समर्थक बड़ी संख्या में मौजूद थे।

-कार्यकर्ता अपने नेता के समर्थन में नारेबाजी कर रहे थे।

-हालात इतने खराब हो गए कि दोनों के समर्थक आपस में लड़ पड़े और जमकर मारपीट हुई।

-कहा जाता है कि विधायक आशू मलिक जो मुलायम के कट्टर समर्थक माने जाते हैं उन्होंने अखिलेश को धक्का दे दिया जिससे उनके समर्थक उग्र हो गए।इसके बाद मारपीट शुरू हो गई।

आगे की स्लाइड में जानें सीएम अखिलेश ने अमर सिंह के किस ट्वीट का जिक्र अपने भाषण में किया



zafar

zafar

Next Story