×

Sharad Pawar: पवार ने की इमरान खान की तारीफ, पाकिस्तान के लोग भारत के दुश्मन नहीं

Sharad Pawar Statement on Pakistan: भारत और पाकिस्तान के रिश्तो में हाल के दिनों में काफी खटास आ चुकी है मगर पवार ने कहा कि पाकिस्तान के आम लोग भारत के दुश्मन नहीं हैं। प

Anshuman Tiwari
Published on 13 May 2022 5:11 AM GMT
Sharad Pawar praised Imran Khan
X

शरद पवार-इमरान खान (photo: social media )

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sharad Pawar Statement on Pakistan: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के मुखिया विभिन्न मुद्दों पर खुलकर अपनी राय रखने के लिए जाने जाते हैं। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने कार्यकाल में भले ही भारत के खिलाफ मोर्चा खोल रखा हो मगर शरद पवार (Sharad Pawar) ने इमरान खान (Imran Khan) की तारीफ की है। हालांकि उन्होंने इमरान खान का नाम तो नहीं लिया मगर उनका इशारा साफ तौर पर उन्हीं की ओर था।

भारत और पाकिस्तान के रिश्तो (India Pakistan Relations) में हाल के दिनों में काफी खटास आ चुकी है मगर पवार ने कहा कि पाकिस्तान के आम लोग भारत के दुश्मन नहीं हैं। पवार ने यह बयान पुणे में आयोजित एक ईद मिलन कार्यक्रम के दौरान दिया। माना जा रहा है कि उन्होंने मुस्लिम समुदाय को साधने के लिए ही ये बातें कहीं हैं।

इमरान ने की नई राह दिखाने की कोशिश

अपने संबोधन के दौरान एनसीपी नेता ने इमरान खान की खुलकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में युवा प्रधानमंत्री ने देश को नई राह दिखाने का प्रयास किया मगर उसे सत्ता से बेदखल होना पड़ा। पवार ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने देश को पटरी पर लाने, उसकी व्यवस्था सुधारने और उसे सही दिशा में ले जाने का प्रयास किया था मगर वे सत्ता में नहीं रह सके। इस प्रधानमंत्री के सत्ता से बाहर होने के बाद अब पाकिस्तान के सियासी हालात पूरी तरह बदल चुके हैं और वहां की एक नई तस्वीर सामने आ रही है।

उल्लेखनीय है कि पूर्व क्रिकेटर इमरान खान को पिछले दिनों अविश्वास प्रस्ताव के जरिए पाकिस्तान की सत्ता से बेदखल होना पड़ा था। बाद में विपक्षी दलों ने उनकी जगह शहबाज शरीफ को नए प्रधानमंत्री के रूप में चुना था। इमरान के कार्यकाल के दौरान भारत और पाकिस्तान के रिश्ते काफी बिगड़ गए थे। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को समाप्त किए जाने के बाद दोनों देशों के राजनयिक रिश्ते बिल्कुल निम्न स्तर पर पहुंच गए थे। पाकिस्तान की सरकार ने भारत के साथ व्यापारिक रिश्ता भी तोड़ दिया था मगर पवार इमरान की तारीफ करने से नहीं चूके।

पाक के लोगों का नजरिया बुरा नहीं

पाकिस्तान के लोगों की तारीफ करते हुए पवार ने कहा कि वहां के आम लोग भारत के दुश्मन नहीं हैं। भारत के प्रति वहां के यहां लोगों का नजरिया बुरा नहीं है मगर सियासी मैदान में सक्रिय लोग पाकिस्तानी सेना की मदद से ताकत हासिल करना चाहते हैं। ऐसे लोगों की वजह से ही दोनों देशों के बीच टकराव का माहौल बना है। केंद्रीय मंत्री और आईसीसी के अध्यक्ष के रूप में पवार पाकिस्तान का कई बार दौरा कर चुके हैं।

पाकिस्तान दौरे में हुआ गर्मजोशी से स्वागत

अपने पाकिस्तान दौरों का जिक्र करते हुए पवार ने कहा कि लाहौर, कराची या देश के जिस हिस्से में भी मैं गया, मेरा काफी गर्मजोशी से स्वागत किया गया। उन्होंने क्रिकेट टीम के साथ कराची दौरे का विशेष रूप से जिक्र किया। उन्होंने कहा कि खिलाडियों के साथ मैं कराची के एक रेस्तरां में भी गया था और खाने पीने के बाद रेस्तरां के मालिक ने हमसे पैसा तक नहीं लिया। उसका कहना था कि हम पाकिस्तान के मेहमान हैं। इसलिए पैसा लेना उचित नहीं होगा। टीम के खिलाड़ियों को भी पाकिस्तान यात्रा के समय किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ा।

एनसीपी मुखिया ने ये सब बातें पुणे के कोंधवा इलाके में आयोजित ईद मिलन कार्यक्रम के दौरान कही। इस कार्यक्रम में काफी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग जुटे थे और माना जा रहा है कि इस वोट बैंक को साधने की कोशिश के तहत ही पवार ने पाकिस्तान और वहां के लोगों की तारीफ की।

Monika

Monika

Next Story