Top

हो गया ऐलान ! 2022 में शिवपाल यादव को राज्यसभा भेजेंगे अखिलेश

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 13 March 2018 4:57 PM GMT

हो गया ऐलान ! 2022 में शिवपाल यादव को राज्यसभा भेजेंगे अखिलेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा है कि वर्ष 2022 में अपने चाचा शिवपाल यादव को राज्यसभा भेंजेगे। उनका यह बयान पार्टी और परिवार में चल रहे अन्तर्कलह को खत्म करने की दिशा में बढ़ाया गया कदम माना जा रहा है। हालांकि उन्होंने दावा किया है कि उनके परिवार में झगड़े नहीं है। उनका परिवार नहीं टूटा है।

वहीं मुख्यमंत्री योगी के एक बयान पर उन्होंने कहा कि भाजपा यह तय नहीं करेगी कि मैं किस भगवान की पूजा करूं और किसी नहीं।

एक न्यूज चैनल से हुई बातचीत में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने परिवार के अन्तर्कलह व टूटने पर किए सवाल पर कहा कि किसी का भी परिवार नहीं टूटना चाहिए। हमारा परिवार भी नहीं टूटा है। अखिलेश ने कहा कि कुर्सी थी तो झगड़ा था। अब कुर्सी नहीं तो कोई झगड़ा नहीं। शिवपाल को लेकर किए सवाल पर उन्होंने कहा कि कोई मनमुटाव नहीं है। हम होली पर मिले थे। मैंने उनके पैर छुए और उन्होंने मुझे आशीर्वाद दिया।

ये भी देखें :अखिलेश यादव ने निकाला बच्चों की मौत औरंगजेब कनेक्शन, निशाने पर योगी

शिवपाल को राज्यसभा नहीं भेजे जाने पर किए सवाल पर अखिलेश ने कहा कि चाचा विधायक हैं, फिर उस सीट पर चुनाव हो ये ठीक नहीं। लेकिन मैं आप सबको यकीन दिलाता हूं कि 2022 में चाचा शिवपाल सिंह यादव को मैं राज्यसभा का टिकट दे दूंगा। वह राज्यसभा में रहेंगे तो काफी चीजें बेहतर हो जाएंगी।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि नेता जी ने मुझे किसी भरोसे से ही मुख्यमंत्री बनाया। क्या मैं खरा नहीं उतरा। नेता जी ने मुझे जो आदेश दिया मैंने पूरा किया। 23 महीने में एक्सप्रेस वे बनवाकर नेता जी से उद्घाटन करवाया, जहां लड़ाकू विमान भी उतर सकते हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 'हिंदू हूं और ईद नहीं मनाने' वाले बयान पर किए सवाल पर अखिलेश ने कहा कि मैं हिंदू हूं लेकिन बैकवर्ड हिंदू हूं और इसका मुझे गर्व है। मैं भी व्रत रखता हूं लेकिन कभी इसका प्रचार नहीं करता। उन्होंने कहा कि भाजपा यह तय नहीं करेगी कि मैं किस भगवान की पूजा करूं और किसकी नहीं। इस बार मैं भी नवरात्रि का व्रत रखूंगा और फोटो भी ट्वीट करूंगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story