Top

दागियों पर फिर मेहरबान सपा, जेल में बंद मुख्तार अंसारी के बड़े भाई को दिया टिकट

सपा प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस कर 23 प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की। राजू पाल हत्याकांड के मुख्य आरोपी अतीक अहमद को कानपुर कैंट से विधानसभा चुनाव 2017 के लिए टिकट दिया गया है।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 10 Dec 2016 11:49 AM GMT

दागियों पर फिर मेहरबान सपा, जेल में बंद मुख्तार अंसारी के बड़े भाई को दिया टिकट
X
शिवपाल यादव बनाएंगे सेक्‍युलर मोर्चा, कहा- सपा संविधान के रचयिता को गीता पढ़ने की जरूरत
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

shivpal

लखनऊ: सपा प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस कर 23 प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की। इसमें शिवपाल ने कौमी एकता दल के मुख्तार अंसारी (वर्तमान में जेल में बंद) के बड़े भाई को टिकट दिया है। सिबगतुल्लाह अंसारी मोहम्मदपुर सीट से प्रत्याशी घोषित किए गए हैं। वहीं, राजू पाल हत्याकांड के मुख्य आरोपी अतीक अहमद को भी कानपुर कैंट से विधानसभा चुनाव 2017 के लिए टिकट दिया गया है।

शिवपाल यादव ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के कद्दावर नेता नसीमुद्दीन स‌िद्दीकी के भाई हसनुद्दीन स‌िद्दीकी को बांदा से, आजम खां के बेटे अब्दुला आजम खां को स्वार और पूर्व मंत्री राजक‌िशोर के भाई बृजक‌िशोर उर्फ डिंपल को रूदौली से ट‌िकट द‌िया है। इसी लिस्ट में सपा के उन सात उम्मीदवारों के टिकट काटे गए हैं, जो पिछला विधानसभा चुनाव हार गए थे।

गौरतलब है कि कौमी एकता दल का सपा में विलय को लेकर सीएम अखिलेश और शिवपाल के बीच काफी तनातनी हुई थी। सीएम अखिलेश ने कौमी एकता दल का सपा में विलय पर काफी विरोध किया था। शिवपाल द्वारा जारी की गई इस नई लिस्ट में दागियों को टिकट देकर एक बार फिर से समाजवादी पार्टी विरोधियों के निशाने पर आ गई है।

इस विलय से ही सीएम अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के बीच तलवारें खिंच गई थीं। हाल यह हुआ कि सपा के कुनबे की लड़ाई सड़क पर आ गई और दोनों के समर्थकों के बीच लड़ी जाने लगी।

भतीजे ने नाकारा तो चाचा ने दिया टिकट का गिफ्ट

एक कार्यक्रम में मंच पर सीएम अखिलेश ने अतीक अहमद को धक्का देकर दूर हटाया था और यह जताने की कोशिश की थी कि समाजवादी पार्टी में गुंडों और अपराधियों की कोई जगह नहीं है। अब शिवपाल ने अतीक अहमद को टिकट का गिफ्ट देकर एक बार फिर से यह जाहिर कर दिया है कि पार्टी में 'आॅल से नॉट वेल'।

गौरतलब है कि एक कार्यक्रम के दौरान मंच से सीएम अखिलेश का पक्ष रखने वाले जावेद आब्दी को शिवपाल यादव ने धक्का दे दिया था जिसके बाद शुक्रवार को सीएम अखिलेश यादव ने आब्दी को सिंचाई विभाग में प्रमुख सलाहकार बना दिया।

आरोपियों पर मेहरबान सपा

सीएम अखिलेश यादव को सपा प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाकर शिवपाल यादव को सपा प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के बाद से ही यह सुगबुगाहट तेज हो गई थी कि इसका असर आगामी विधानसभा चुनाव में टिकट बंटवारे पर भी पड़ेगा। जिसके बाद पार्टी में इसका असर दिखने भी लगा, जब सीएम अखिलेश के विरोध के बावजूद मधुमिता हत्याकांड के आरोपी अमरमणि त्रिपाठी के बेटे अमनमणि त्रिपाठी को टिकट दिया गया। हालांकि अब अमनमणि त्रिपाठी का टिकट कट चुका है। बता दें कि अमनमणि त्रिपाठी अपनी पत्नी की हत्या के आरोप में फिलहाल जेल में हैं।

देखिए आखिरी तक क्‍या होता है

इससे पहले जब अखिलेश यादव से टिकट बंटवारे में पूछा गया था कि क्या उनकी बिल्कुल नहीं चल रही है, तो उन्‍होंने ताश के खेल का जिक्र करते हुए जवाब दिया था। उन्‍होंने कहा था कि अंत में जीत उसी की होती है जिसके पास तुरुप का इक्का होता है। अखिलेश ने चुनौतीपूर्ण अंदाज में कहा कि विधानसभा चुनाव में अभी समय शेष है और देखिए आखिरी तक क्‍या होता है।

इन सात उम्मीदवारों के कटे टिकट

समाजवादी पार्टी ने चरथावल से मुकेश कुमार, तिलहर से अनवर अली, कानपुर कैंट से हाजी परवेज, बांदा से कमल सिंह मौर्या, मंझनपुर से हेमंत कुमार टुन्नू, रुदौली से अनूप पांडे तथा रुद्रपुर से प्रदीप यादव का टिकट काटा है।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने क्या कहा ?

समाजवादी पार्टी (सपा) द्वारा जारी किए गए विधानसभा प्रत्याशियों की सूची पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अपराधमुक्त और अपराधी मुक्त उत्तर प्रदेश के र्निमाण के लिए कार्य कर कर रही है। जबकि समाजवादी पार्टी द्वारा घोषित प्रत्याशियों से यह स्पष्ट है कि समाजवादी पार्टी अपराधियों को संरक्षण देकर गरीबों को सताती है।

अगली स्लाइड में देखिए समाजवादी पार्टी के 23 प्रत्याशियों की लिस्ट

ये हैं समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों की लिस्ट

रुधौली से पूर्व मंत्री राजकिशोर सिंह के भाई बृजकिशोर सिंह उर्फ डिंपल

बरहज से गेंदालाल यादव

बुढ़ाना से कमर हसन

चरथावल से अब्दुल्ला राणा

मुजफ्फरनगर के स्वार से कैबिनेट मंत्री आजम खां के बेटे अब्दुल्ला आजम

मंझनपुर से शिव मोहन धोबी

दादरी से रविंद्र भाटी

शिकारपुर से राकेश शर्मा

संडीला से अब्दुल मन्नान

मीरगंज से शराफतयार खां

बडौत से विजय कुमार चौधरी

चमरौआ से नसीर अहमद

samajwadi-party-list

तिलहर से कादिर अली

कानपूर कैंट से अतीक अहमद

बांदा से असमुद्दीन सिद्दीक़ी

खागा से ओम प्रकाश गिहार

बारा से अजय भारती

रुद्रपुर से अनुग्रह नारायण सिंह

बरेली शहर से राजेश अग्रवाल

शिकारपुर से राकेश शर्मा

बिलास से मीना भारद्वाज

मोहम्मदाबाद से सिबगततुल्ला अंसारी

अमांपुर से वीरेंद्र सोलंकी

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story