Top

छोटे दल बोले- अगर मछुआरे, मुसलमान होंगे साथ, तो साफ हो जाएंगे मोदी, माया, मुलायम

निषाद पार्टी के संजय निषाद ने पिछली सरकारों पर समाज को बांटने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मुसलमान, मौर्या और मछुआरा, तीनों ही जातियों का डीएनए एक है। निषाद ने कहा कि अगर ये तीनों जातियां एक साथ आ जाएं तो माया, मुलायम और मोदी तीनों साफ़ हो जाएंगे।

zafar

zafarBy zafar

Published on 27 Sep 2016 3:24 PM GMT

छोटे दल बोले- अगर मछुआरे, मुसलमान होंगे साथ, तो साफ हो जाएंगे मोदी, माया, मुलायम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कुशीनगर: उत्तर प्रदेश के चुनावी दंगल में एक तरफ बड़े पहलवान हाथ मिला कर एक दूसरे को धोबी पाट मारने की फिराक में हैं, तो दूसरी तरफ छोटे पहलवान भी आपसी गठजोड़ कर उन्हें चुनौती दे रहे हैं। मंगलवार को पडरौना में पीस पार्टी, महान दल और निषाद पार्टी ने एक संयुक्त सभा करके बड़े दलों के खिलाफ ताल ठोंक दी है।

यह भी पढ़ें...यूपी में चुनाव नजदीक आते ही बढ़ी वोटकटवा दलों की सक्रियता

छोटे दलों का महागठबंधन

-पडरौना में डॉ. अयूब की पीस पार्टी, केशव देव मौर्या का महान दल और डॉ. संजय निषाद की निषाद पार्टी ने संयुक्त जनसभा करके बड़े दलों को चुनौती दे दी।

-पडरौना के डिग्री कालेज के खेल मैदान में आयोजित इस संयुक्त सभा में लोगों की भारी भीड़ उमड़ी।

-निषाद पार्टी के संजय निषाद ने पिछली सरकारों पर समाज को बांटने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि मुसलमान, मौर्या और मछुआरा, तीनों ही जातियों का डीएनए एक है।

-निषाद ने कहा कि अगर ये तीनों जातियां एक साथ आ जाएं तो माया, मुलायम और मोदी तीनों साफ़ हो जाएंगे।

-पूर्वांचल की इस भीड़ को देखकर उत्साहित निषाद ने योगी आदित्यनाथ पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि योगी की हिन्दू युवा वाहिनी आतंक का पर्याय बन रही है।

जातियों का उकसावा

-महान दल के अध्यक्ष केशव देव मौर्या ने अपने भाषण में कई बार आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया।

-मौर्या ने ब्राह्मण जाति के सफाए तक की बात कह डाली।

-उन्होंने अपने भाषण में यादव विहीन समाज का नारा देते हुए अन्य पिछड़ी जातियों के इकठ्ठा होने की जरुरत बताई।

चुनावी फायदे की बात

-पीस पार्टी के अध्यक्ष डॉ. अयूब ने अखिलेश सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया।

-डॉ. अयूब ने कहा कि मुसलमानों का वोट लेकर सरकार बनाने वाले अखिलेश ने सिर्फ एक ही जाति के लिए काम किया।

-उन्होंने कहा कि उनका महागठबंधन मुश्किलों से बना है, और 2017 के चुनाव में इसका लाभ उठाने की जरुरत है।

-सभा लगभग पांच घंटे तक चली, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों से आई भीड़ देर शाम तक जमी रही ।

zafar

zafar

Next Story