Top

अमेठी में राहुल की मुश्किलें बढ़ा सकती हैं स्मृति, बोलीं- पुलिस वाले भैया रहने दो, मैं तो ...

केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी दो दिवसीय दौरे पर अमेठी में हैं, लेकिन शनिवार (08 अप्रैल) को दौरे के पहले ही दिन स्मृति ईरानी का जो रूप-रंग देखने को मिला उसे देखकर कहा जा सकता है कि अमेठी में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 8 April 2017 1:17 PM GMT

अमेठी में राहुल की मुश्किलें बढ़ा सकती हैं स्मृति, बोलीं- पुलिस वाले भैया रहने दो, मैं तो ...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अमेठी: केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी दो दिवसीय दौरे पर अमेठी में हैं, लेकिन शनिवार (08 अप्रैल) को दौरे के पहले ही दिन स्मृति ईरानी का जो रूप-रंग देखने को मिला उसे देखकर कहा जा सकता है कि अमेठी में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं। अमेठी के तिलोई विधान सभा के बहादुरपुर पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने 60 करोड़ की लागत से बन रहे 200 बेडों वाले हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। इस बीच निर्माणधीन हॉस्पिटल का निरीक्षण कर निकलते समय पुलिस ने कुछ लोगों को स्मृति के पास जाने से रोका तो उन्होंने पुलिस से कहा 'रहने दो भैया, मैं तो अमेठी 3 साल से आ रही हूं। सब मुझे जानते हैं। इनमें से कोई मुझे गोली मारने वाला नहीं है।'

यह भी पढ़ें ... स्मृति ईरानी का पीछा कर रहे थे नशे में धुत DU के चार छात्र, पुलिस ने धर दबोचा

राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा स्मृति ईरानी ने कहा कि अगर राहुल गांधी के मन में अमेठी के किसानों के लिए थोड़ा भी दर्द हो तो वह सम्राट साइकिल की जमीन किसानों को वापस करें। वहीं केंद्रीय मंत्री ने यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव पर भी हमलावर हुईं और कहा कि जो अपनों का सम्मान नहीं कर सकता उससे अपेक्षा नहीं होती कि वो दूसरो के निर्णयों अथवा कार्यशैली का सम्मान करें।

स्मृति ने कहा कि भारत के इतिहास में पहली बार अमेठी की पांच सीटों में बीजेपी ने चार सीटों पर कब्जा किया। ईरानी ने कहा कि गांधी परिवार की वजह से जो फैक्ट्री 20 साल से नहीं चली वो अगले 2 महीने के भीतर चालू होगी।

उन्होंने कहा कि 2014 के पहले अमेठी की जब चर्चा होती थी तो एक भ्रम था कि अमेठी स्वर्ग की तरह होगी, लेकिन यहां की तस्वीर दूसरी ही कहानी बयां कर रही है। बीजेपी की सरकार आते ही 2014 से अब तक यहां ढाई करोड़ से ज्यादा शौचालय बनाये गए। उन्होंने कहा कि हारने के बाद भी मैने संकल्प लिया था कि भारत सरकार की कई योजनाएं हम अमेठी में लाएंगे। अब समय आ गया है और 2019 में अमेठी में कमल खिलेगा।

राहुल को अमेठी की फिक्र नहीं

-उधर अमेठी के जामों के गौरा में स्मृति ईरानी ने कहा कि आने वाले एक साल में पूरे अमेठी लोकसभा में छोटे बड़े 20 कौशल विकास केंद्र खोले जाएंगे।

-जिससे अमेठी के युवाओं को रोजगार मिलेगा।

-स्मृति ईरानी राहुल गांधी पर चुटकी लेने से बाज़ नहीं आई।

-उन्होंने कहा कि राहुल को अमेठी की फिक्र नही है, तभी अमेठी पिछड़ा हुआ है, लेकिन अब अमेठी में विकास होगा।

आगे की स्लाइड में पढ़ें स्वच्छता अभियान के तहत बांटे चार-चार हजार रुपए के चेक

स्वच्छता अभियान के तहत बातें चार-चार हजार रुपए के चेक

-दो दिवसीय दौरे के पहले दिन अमेठी पहुंची स्मृति ईरानी का जगह-जगह लोगों ने अभिनंदन किया।

-इसके बाद स्मृति ईरानी अमेठी विधानसभा पहुंची।

-जहां उन्होंने अमेठी कस्बे के लखहरा भवन में एनआईओएस (नेशनल इंस्टीयूट ऑफ ओपन स्कूल) का उद्दघाटन किया।

-यहां से निकलकर स्मृति अमेठी नगर पंचायत पहुंची

-जहां करीब 250 महिलाओं को स्वच्छता अभियान के तहत चार-चार हजार रुपए का चेक बांटा।

आगे की स्लाइड में पढ़ें जब ईरानी के सामने खुली उनकी ही सरकार के विकास की पोल

जब ईरानी के सामने खुली उनकी ही सरकार के विकास की पोल

केंद्रीय मंत्री स्मृत ईरानी की आंखों के सामने प्रदेश को 24 घंटे बिजली देने का वादा करने वाली योगी सरकार की पोल भी खुली। स्मृति ईरानी के कार्यक्रम में बिजली गुल रही।इसके कारण स्मृति को भीषण गर्मी में मौजूद महिलाओं को संबोधित करना पड़ा।

जबकि पूर्व की सरकार में अमेठी को 24 घंटे बिजली मिलती थी, लेकिन सत्ता परिवर्तन के बाद बिजली की पोल तब खुली जब उनकी ही सरकार की केंद्रीय मंत्री कार्यक्रम को संबोधित कर रही थी।

यह भी पढ़ें ... PHOTOS में देखिए शपथ ग्रहण समारोह के दौरान स्मृति उपवन का आलम, देशभर से आए बड़े-बड़े नेता

कांग्रेस पर साधा निशाना

स्मृति ईरानी ने मंच से पीएम नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान को लेकर जमकर तारीफ की तो पूर्व की कांग्रेस सरकार पर जमकर निशाना साधा और कहा कि एक भी योजना को लागू करने या करवाने के लिए पत्र मांगना पड़ता था। बता दें, कि 3 साल पहले आज ही के दिन ईरानी अमेठी से चुनाव लड़ने के लिए अमेठी आई थीं।

आगे की स्लाइड्स में देखिए फोटोज

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story