Top

माया पर स्वामी फिर हमलावर, कहा- टिकट बेचने के कारण हारे 2012 का चुनाव

By

Published on 23 Aug 2016 9:22 PM GMT

माया पर स्वामी फिर हमलावर, कहा- टिकट बेचने के कारण हारे 2012 का चुनाव
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ/मुजफ्फरनगरः बीएसपी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए स्वामी प्रसाद मौर्य ने बीएसपी सुप्रीमो मायावती पर फिर निशाना साधा है। मंगलवार को उन्होंने मेरठ में अपने समर्थकों से कहा कि मायावती टिकट बेचती हैं और साल 2012 के विधानसभा चुनावों के दौरान 130 टिकट बेचे थे। इससे बीएसपी की बुरी तरह पराजय हुई थी। मौर्य का पूर्व विधायक हरपाल सैनी ने खूब स्वागत किया।

स्वामी ने क्या कहा?

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि बीएसपी में तो जिसकी जितनी थैली भारी, उतनी उसकी भागीदारी होती है। उन्होंने कहा कि मायावती अभी 1 से 10 करोड़ रुपए में यूपी विधानसभा चुनाव के लिए टिकट बेच रही हैं। जिला पंचायत चुनावों में भी ढाई से पांच लाख तक टिकट बेचे जाने का आरोप उन्होंने लगाया। स्वामी प्रसाद ने कहा कि मायावती ने अंबेडकर और कांशीराम के आदर्शों को बेच दिया है। मायावती के घमंड को चूर करने के लिए वह 22 सितंबर को लखनऊ में अति दलित रैली करने वाले हैं। साथ ही यूपी को कांग्रेस, सपा और बीएसपी मुक्त करने का आह्वान भी उन्होंने किया।

मुजफ्फरनगर में क्या बोले मौर्य?

मुजफ्फरनगर भी स्वामी प्रसाद मौर्य पहुंचे। उन्होंने यहां कहा कि बीएसपी सुप्रीमो दलितों और पिछड़ों का हक रईसों को देती हैं। मायावती पैसों की हवस में अंधी हो चुकी हैं। मौर्य ने कहा कि मैंने कई बार उन्हें समझाया, लेकिन जब देखा कि वह नहीं सुनतीं और मनमर्जी कर रही हैं तो स्वाभिमान की खातिर बीएसपी छोड़ दी। उन्होंने कहा कि यूपी में बीजेपी की आंधी चल रही है और विधानसभा चुनाव में बाकी दल इस आंधी में उड़ जाएंगे।

Next Story