Top

असम एनआरसी विवाद: सिलचर एयरपोर्ट पर टीएमसी के 8 नेताओं को हिरासत में लिया गया

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 2 Aug 2018 11:33 AM GMT

असम एनआरसी विवाद: सिलचर एयरपोर्ट पर टीएमसी के 8 नेताओं को हिरासत में लिया गया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गुवाहाटी: असम में जारी एनआरसी पर संसद से सड़क पर जारी संग्राम गुरुवार को असम भी पहुंच गया। NRC का विरोध कर रही टीएमसी के 6 सांसद और दो विधायक को असम के सिलचर एयरपोर्ट पर हिरासत में ले लिया गया। शहर के अंदर भारी संख्या में फ़ोर्स तैनात कर दी गई है।

शांतिपूर्ण प्रदर्शन से रोकना चाहती है सरकार-टीएमसी

हिरासत में लिए जाने के बाद तृणमूल नेताओं का कहना है कि वे एयरपोर्ट छोड़कर नहीं जाएंगे। उधर, कहा जा रहा है कि इन नेताओं को अगली उड़ान से वापस भेजा जा सकता है। टीएमसी के नेताओं का आरोप है कि उन्‍हें शांतिपूर्ण प्रदर्शन करना चाहते थे लेकिन उन्‍हें जबरन हिरासत में ले लिया गया।

ये भी पढ़ें...असम एनआरसी विवाद: ड्राफ्ट पर बांग्‍लादेश ने पल्‍ला झाड़ा, कहा- हमारा कोई लेना-देना नहीं

सिलचर एयरपोर्ट पर बदसलूकी का आरोप

टीएमसी के वरिष्‍ठ नेताओं ने असम सरकार के इस कदम की आलोचना की है। तृणमूल कांग्रेस नेता डेरेक ओ ब्रायन ने आरोप लगाया कि सिलचर एयरपोर्ट पर उनके नेताओं के साथ बदसलूकी की गई। उन्‍होंने कहा कि हिरासत में लिए गए सभी लोग जन प्रतिनिधि हैं। तृणमूल नेताओं ने कानून का उल्‍लंघन नहीं किया है। लोगों से मिलना उनका लोकतांत्रिक अधिकार है।

ये भी पढ़ें...असम NRC विवाद : अब बिहार, बंगाल और दिल्ली में घुसपैठियों की पहचान की उठी मांग

धारा 144 की वजह से गिरफ्तारी

सरकार का कहना है कि इलाके में धारा 144 लगी हुई और इसी वजह उन्‍हें हिरासत में लिया गया है। जिन नेताओं को हिरासत में लिया गया है उनमें पश्चिम बंगाल के मंत्री सिराज हकीम, राज्‍यसभा के दो और लोकसभा के चार सांसद हैं।



Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story