Top

उन्नाव रेप केस: चश्‍मदीद गवाह की संदिग्ध परिस्थियों में मौत, राहुल गांधी ने घटना को बताया षड्यंत्र

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 24 Aug 2018 3:31 AM GMT

उन्नाव रेप केस: चश्‍मदीद गवाह की संदिग्ध परिस्थियों में मौत, राहुल गांधी ने घटना को बताया षड्यंत्र
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उन्नाव: संदिग्ध परिस्थियों में चर्चित उन्नाव रेप केस के गवाह मोहम्मद यूनुस की मौत हो गई। यही नहीं, मौत होने के बाद मोहम्मद यूनुस के शव को बिना पोस्टमॉर्टम के दफना भी दिया गया। ऐसे अब कांग्रेस ने इस मामले को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर हमला बोला। इस मामले को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने साजिश बताया।

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों, आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ जारी, राज्य में इंटरनेट सेवाएं ठप

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके भाई मुख्य ही इस मामले के मुख्य आरोपी हैं। बता दें कि बुधवार को मोहम्मद यूनुस की की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी।



वहीं, इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि, ‘संदिग्ध परिस्थियों में मोहम्मद यूनुस की मौत और बिना पोस्टमॉर्टम दफनाए जाने के मामले में बीजेपी के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उनके भाई शामिल हैं और यह मामला पूरा-पूरा एक षड्यंत्र हैं।’

ये है पूरा मामला

  • 9 अप्रैल 2018 को उन्‍नाव रेप केस की पीड़िता के पिता की माखी पुलिस स्टेशन में पिटने की वजह से मौत हो गई थी, जिसका चश्‍मदीद गवाह यूनुस था।
  • अब इस मामले में यूनुस की मौत के बाद ये बात सामने आ रही है कि विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के कहने पर यूनुस को जहर देकर मारा गया और फिर बिना पोस्टमॉर्टम के उसे दफ़न भी कर दिया गया।
  • सूत्रों के अनुसार, 18 अगस्त को यूनुस की तबीयत ख़राब हो गई थी, जिसके बाद उसे जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया गया। मगर यहां उसकी डेथ हो गई। ऐसे में उसके घरवालों ने बिना पुलिस को इसकी जानकारी देते हुए उसके शव को दफना दिया।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story