Top

CM के बयान पर बिफरे राम गोविंद, समझाया लाल टोपी और भगवा का फर्क

aman

amanBy aman

Published on 8 Feb 2018 7:53 AM GMT

CM के बयान पर बिफरे राम गोविंद, समझाया लाल टोपी और भगवा का फर्क
X
CM के बयान पर बिफरे रामगोविंद, समझाया 'लाल टोपी' और भगवा का फर्क
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: यूपी विधानसभा का बजट सत्र गुरुवार (08 फ़रवरी) से शुरू हो गया। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही समाजवादी पार्टी के विधायकों ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान सपा विधायाकों ने बैनर और तख्ती लेकर प्रदर्शन भी किया। प्रदर्शन कर रहे सपा विधायकों ने योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी के साथ-साथ बजट सत्र अभिभाषण के दौरान राज्यपाल राम नाईक के ऊपर कागज के गोले भी फेंके।

इसके बाद सीएम योगी ने कहा, सपा विधायकों का आचरण निंदनीय था। साथ ही उन्होंने चेताया, कि 'अब अगर लाल टोपी वाले नहीं संभले तो जनता निपटाना शुरू कर देगी।'

ये भी पढ़ें ...UP बजट सत्र: हंगामे के बीच राज्यपाल का अभिभाषण- विकास दिखने लगा है

प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर

इसके बाद नेता प्रतिपक्ष विधानसभा रामगोविंद चौधरी ने योगी के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी। रामगोविंद बोले, 'जो ख़ुद निंदनीय होता है वही निंदा करता है। आज प्रदेश में आलू किसान परेशान हैं। भ्रष्टाचार चरम पर है। लेकिन सरकार को ये सब नहीं दिख रहा।' रामगोविंद चौधरी ने कासगंज हिंसा का मुद्दा उठाते हुए कहा, मुस्लिम समुदाय ने तिरंगा फराया था। लेकिन कासगंज पर योगी सरकार एकतरफ़ कार्रवाई कर रही है।

ये भी पढ़ें ...PHOTOS: एक-दूसरे पर तीखे वाण चलाने वाले जब मिले…तो भई, कुछ यूं मिले

सीएम के 'लाल टोपी' बयान पर बिफरे रामगोविंद

उन्होंने सीएम की टिप्पणी की निंदा की और उन्हें मर्यादित भाषा सीखने की सलाह दी। सीएम के 'लाल टोपी' वाले बयान पर रामगोविंद बोले, 'लाल टोपी आज़ादी की निशानी है। भगवा देश के विरोधियों की लड़ाई की निशानी रही है। इन्होंने भगवा को आलोचना का पात्र बना दिया, जैसे राम को आलोचनाओं का केंद्र बनाया।'

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story