Top

मंत्री जी ने मुलायम को रावण, मायावती को सूर्पनखा बताया था, अब देना होगा जवाब

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 6 March 2018 9:40 AM GMT

मंत्री जी ने मुलायम को रावण, मायावती को सूर्पनखा बताया था, अब देना होगा जवाब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : अधिवक्ता के के राय, रमेश यादव व चार्ली प्रकाश द्वारा केंद्रीय चुनाव आयोग में एक याचिका दायर की गई है। याची गण का कहना है कि यूपी के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल नंदी द्वारा 7 मार्च को इलाहाबाद के प्रीतम नगर में मुलायम सिंह यादव, मायावती और अखिलेश यादव को रावण, सूर्पनखा और मेघनाद कहा गया है। याचिका में नंदी के खिलाफ एफआइआर करने, उन्हें प्रचार करने से रोकने और गिरफ्तार करने की मांग की गई है।

इस याचिका को आयोग ने स्वीकार कर लिया है।

क्या है मामला

बहुजन समाज पार्टी ने लोकसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी को समर्थन देने का ऐलान किया इसके बाद से दोनों दल बीजेपी नेताओं के निशाने पर आ गए हैं। सीएम योगी से लेकर उनके मंत्रियों ने बसपा-सपा पर जुबानी निशानेबाजी शुरू कर दी है। इसी क्रम में इलाहाबाद के प्रीतम नगर में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए यूपी के नागरिक उड्डयन मंत्री नंदी ने सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव को 'कलयुग का रावण' और बीएसपी अध्यक्ष मायावती को उनकी बहन शूर्पणखा बता दिया। नंदी ने पूर्व मंत्री शिवपाल यादव को कुंभकर्ण और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को मेघनाद बताया था।

नंदी ने पीएम नरेंद्र मोदी को राम और सीएम योगी आदित्यनाथ को हनुमान बता दिया।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story