Top

यूपी विधानसभा चुनावः पहले चरण में 15 ज़िलों की 73 सीट पर आज होगा मतदान, तैयारियां पूरी 

जहां एक तरफ राजनैतिक पार्टियों ने अपनी पूरी ताक़त झोक दी है। वहीं शान्तीपूर्ण ढंग से चुनाव कराने के लिए चुनाव आयोग ने भी कमर कस ली है।

By

Published on 10 Feb 2017 5:10 AM GMT

यूपी विधानसभा चुनावः पहले चरण में 15 ज़िलों की 73 सीट पर आज होगा मतदान, तैयारियां पूरी 
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः यूपी की सियासी जंग का आगाज़ शनिवार (11 फरवरी) को पहले चरण के मतदान से साथ शुरू हो जाएगा। पहले चरण में पश्चिमी यूपी के 15 ज़िलों की 73 सीट पर कल यानी 11 फ़रवरी को मतदान होना है। पश्चिमी यूपी की सीट पर कब्ज़ा करने के लिए जहां एक तरफ राजनैतिक पार्टियों ने अपनी पूरी ताक़त झोक दी है। वहीं शान्तीपूर्ण ढंग से चुनाव कराने के लिए चुनाव आयोग ने भी कमर कस ली है

इन ज़िलों में होगा मतदान

शामली, मुज़फ्फरनगर, बागपत, मेरठ, गाज़ियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, हापुड़, बुलन्दशहर, अलीगढ, आगरा, मथुरा, हाथरस, फ़िरोज़ाबाद, एटा, कासगंज।

पहले चरण में इनकी प्रतिष्ठा पर लगा दांव

-सरधना से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी संगीत सोम

-थानाभवन से भाजपा प्रत्याशी सुरेश राणा

-भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और मेरठ से भजपा प्रत्याशी लक्ष्मीकांत बाजपाई

-मेरठ से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार अतुल प्रधान

-कांग्रेस विधानमंडल दाल के नेता और मथुरा से कांग्रेस प्रत्याशी प्रदीप माथुर

-भाजपा के कद्दावर नेता हुकुम सिंह की बेटी मृगांका सिंहको भजपा ने बनाया है कैराना से प्रत्याशी

-राजद प्रमुख लालू प्रसाद के दामाद ,राहुल यादव है गौतमबुद्ध नगर से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार

मतदान केंद्रों की होगी रिकार्डिंग

पहले चरण के मतदान में कुल 2.59 करोड़ मतदाता उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे। जिनके लिए चुनाव आयोग ने 14,514 मतदान केंद्र बनाये है।आयोग ने किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए 826 कंपनी केंद्रीय सुरक्षा बलो को तैनात किया है। मतदान पर नज़र रखने के माइक्रो ऑब्ज़र्वर के मतदान की रेकार्डिंग की भी किये जाने के इंतज़ाम पूरे हो चुके है।

पीडीएमएस के ज़रिए आयोग रखेगा पल पल की खबर

आयोग इस बार चुनाव को "पोल डे मैनेजमेंट सिस्टम" के ज़रिए हैंडल करेगा। पीडीएमएस के ज़रिये चुनाव से सम्बंधित अधिकारी ऑनलाइन रहेंगे। इसके ज़रिए एक क्लिक से निर्वाचन अधिकारी पोलिंग बूथ और मतदान कर्मियों की पल पल की गतिविधियों पर नज़र रख सकेंगे।

पश्चिमी यूपी के लिए पोलिंग पार्टिया रवाना ,मतदाताओ के लिए ख़ास होंगे इंतज़ाम

पहले चरण के मतदान के लिए पोलिंग पार्टियों और सुरक्षा बलो की रवानगी शुरू हो चुकी है। आयोग ने इन पोलिंग पार्टियों को शाम तक मतदान केंद्र पर पहुच कर मतदातों के लिए मुहैया कराने वाली सुविधाओ की रिपोर्ट देने के लिए निर्देश दिए गए है। इस बार आयोग ने वोटर्स को मतदान केंद्र तक लाने के लिए ख़ास इंतेज़ाम किये है वही दिव्यांग और बुज़ुर्गो के लिए भी बूथ पर वोटर्स गाइड , रैम्प और बैठने जैसी तमाम सुविधाएं होगी।

-बुर्जग मतदाताओं को ई-रिक्शा से बूथ स्थल तक पहुंचने की रहेगी सुविधा।

-एनसीसी ओर स्पोर्टस गाइड के छात्रों की मदद ली गई है।

-मतदान के दौरान किसी भी मतदाता को अगर चिकित्सीय सुविधा की ज़रूरत पड़ने पर खासतौर पर प्राइवेट अस्पतालों कैशलेश उपचार करने में मदद करने के निर्देश दिए गए।

-इसबार हेलीकॉप्ट के माध्यम से एयर लिफ्ट करते हुए सुविधाए दी जाएगी चाहे वो स्वास्थ की हो या फिर ओर कोई परेशानी हो।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने दिया आश्वासन ,कैराना के वोटर्स को मिलेगी पूरी सुरक्षा

अपने दो दिन के दौरे पर लखनऊ आये मुख्य निर्वाचन आयुक्त नसीम ज़ैदी ने कहा कि वोटर्स प्रतिशत बढ़ने की ज़रूरत है ऐसे में कैराना और शामली के पुलिस प्रशासन के अफसरो और चुनाव मशीनरी को सख्त हिदायत दी की इन जगहों से पलायन कर चुके मतदाता अगर वापस आ कर मतदान 11 फरवरी को मतदान करना चाहते है तो उन्हें पूरी सुरक्षा मुहैया कराइ जाएगी।

Next Story