×

Dayashankar Singh: परिवहन राज्यमंत्री दयाशंकर सिंह से खास बातचीत, बताया आनलाइन होने से कैसे मिलेगी यात्रियों को बड़ी राहत

Dayashankar Singh Interview: न्यूज ट्रैक’ ने परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह से उनके विधानभवन स्थित कार्यालय में विस्तार से बात की है। पेश है वार्ता के मुख्य अंश-

Shreedhar Agnihotri
Published on: 9 Jun 2022 4:31 AM GMT
X

परिवहन राज्यमंत्री दयाशंकर सिंह (Social media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Dayashankar Singh Interview: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सदस्य रहे दयाशंकर सिंह विधानसभा चुनाव में बलिया सदर सीट से जीतकर आए है। इसे उनके परिश्रम और संगठन के प्रति निष्ठा का परिणाम ही कहा जाएगा कि पहली बार में ही योगी सरकार में परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाए गए हैं। इन दिनों वह वह विभाग की कमियों को दूर करने के लिए दिन रात परिश्रम कर रहे हैं और खुद फील्ड में उतरकर हर कमी को दूर करने के प्रयास में लगे है। अभी कुछ दिनों पहले अवध बस स्टेशन पर एक बस के अचानक खराब हो जाने से वह रात एक बजे वहां पहुंचे और रात को ही बस को ठीक करवा कर उसे रवाना किया।

हाल ही में 'न्यूज ट्रैक' ने परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह से उनके विधानभवन स्थित कार्यालय में विस्तार से बात की है। पेश है वार्ता के मुख्य अंश-

'न्यूज ट्रैक' विभाग की जो पुरानी कमियां हैं उन्हे दूर करने के लिए आपकी तरफ से क्या प्रयास किए जा रहे है ?

दयाशंकर सिंहः सबसे पहली बात तो यह है कि ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर अक्सर लोगों को परेशानियो का सामना करना पड़ता है इसके लिए आनलाइन लर्निग लाइसेंस की प्रक्रिया को षुरू किया है। इससे से लोगों को जहां दलालों से मुक्ति मिलेगी वहीं उनके समय और धन की भी बचत होगी। इसके अलावा ई रिक्षा के बढते जाम को लेेकर भी कोई रास्ता निकालने के प्रयास किए जा रहे है।

'न्यूज ट्रैक' परिवहन निगम की बसों को लेकर अक्सर शिकायत रहती है कि यात्रियों को अपने गंतत्य तक पहुंचने में काफी समय लगता है ?

दयाशंकर सिंह: बिल्कुल आप सही कह रहे हैं। यह विभाग की काफी पुरानी समस्या है। जिसकी शिकायत आती रहती है। हाल ही में सभी क्षेत्रीय प्रबन्धकों सहायक क्षेत्रीय प्रबन्धकों को प्रदेश की जनता को आरामदायक, सुरक्षित और समयबद्ध परिवहन सुविधा उपलब्ध कराने को कहा हैं। यहीं नहीं बस चालकों एवं परिचालकों से कहा गया है कि वह मादक पदार्थों का सेवन न करे एवं वर्दी में ही रहे। इस बात को पूरा ख्याल रखें कि एक्सप्रेस-वे, राजमार्गों में गलत साइड से ओवर टेकिंग करने का प्रयास न करे, साथ ही यात्रियों को उतारने के लिए बसों को सड़क के किनारे लगाकर ही खड़ा करे।

'न्यूज ट्रैक' क्या इसमें केवल एसी और स्कैनियां बसे ही शामिल है ?

दयाशंकर सिंहः नहीं ऐसा नहीं है, लगभग 2400 साधारण बस सेवाओं को आनलाइन आरक्षण के लिए परिवहन निगम की पोर्टल से जोडने की प्रक्रिया शीघ्र पूरी की जाएगी। सभी सभी रूटों पर आनलाइन आरक्षण व्यवस्था शुरू करने की योजना पर बहुत तेजी से काम हो रहा है। इसके अलावा बसों के स्थगित होने पर अब यात्रियों को दो घंटे पहले सूचना दी जाएगी।

'न्यूज ट्रैक' बस स्टेशन में गंदगी डग्गा मार वाहनों आदि की बडी समस्या है ?

दयाशंकर सिंहः यात्रियों के बैठने, स्वच्छ पेयजल, बस स्टेशनों पर साफ-सफाई, एवं प्रकाश की व्यवस्था तथा महिला एवं पुरूष शौचालयों के साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने को कहा है जल्द ही इस दिशा में बदलाव देखने को मिलेगे। मै स्वय भी बस स्टेशनों का औचक निरीक्षण करता हूं। जिन बस स्टेशनों के अन्दर गडढे है वह बरसात के पहले जल्द मरम्मत कराए जाएगें। जिससे किसी भी यात्रियों को आने-जाने में कोई असुविधा न हो। सभी क्षेत्रीय परिवहन अधिकारियों को निर्देश दिये है कि अपने बस स्टेशन से कम से कम एक किलोमीटर परिधि के अन्दर कोई भी प्राइवेट बस खड़ी न करने दें।

Ragini Sinha

Ragini Sinha

Next Story