×

Vijay Rath Yatra : तो इस टोटके के कारण अखिलेश ने शुरू की कानपुर से रथ यात्रा

Vijay Rath Yatra : समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपनी पहले चरण की विजय रथ यात्रा कानपुर से शुरू कर दी है।

Shreedhar Agnihotri

Shreedhar AgnihotriWritten By Shreedhar AgnihotriShraddhaPublished By Shraddha

Published on 14 Oct 2021 6:28 AM GMT

Samajwadi Party Vijay Yatra
X

अखिलेश यादव की रैली (फोटो- आशुतोष त्रिपाठी न्यूज ट्रैक)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Vijay Rath Yatra : उत्तर प्रदेश में इन दिनो राजनीतिक माहौल गरम होना शुरू हो गया है। राजनीतिक दलों में एक दूसरे पर हमले और सांगठनिक तैयारियों के साथ ही जनता को प्रभावित करने के तरह तरह के प्रयोग शुरू हो गए हैं। राजनीतिक यात्राओं का भी जोर है, इन सबके बीच मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने अपनी पहले चरण की विजय रथ यात्रा (Vijay Rath Yatra) कानपुर से शुरू कर दी है। पर सवाल इस बात का है 75 जिलों वाले इस प्रदेश में उन्होंने आखिर कानपुर को ही क्यों चुना। जबकि प्रदेश में कितने ऐसे जिले है, जहां पर समाजवादी पार्टी का कानपुर से अधिक प्रभाव है। मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने शुरू की थी कानपुर से क्रांति रथयात्रा की तो हम बताते हैं कि इसके पीछे की कहानी।


दरअसल, यह कानपुर समाजवादी पार्टी के लिए हमेशा शुभ साबित हुआ है। फिर चाहे वह पिता मुलायम सिंह यादव हो अथवा बेटे अखिलेश यादव हो। सबसे पहले कानपुर से रथयात्रा की शुरुआत समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने की थी। तब वह जनता दल में हुआ करते थें। उन्होंने जनता दल के नेता चौ देवीलाल के हाथों सौंपा गया क्रांति रथ पूरे प्रदेश में घुमाया। जिसके बाद वह पहली बार 1989 में प्रदेश के मुख्यमंत्री बने।


पहले चरण की विजय रथ यात्रा (फोटो - न्यूजट्रैक)


पहले भी निकाल चुके हैं चुनावी रथ यात्रा

इसके बाद अखिलेश यादव ने भी 2001 और 2011 में भी अपना रथ घुमाया तो 2003 और 2012 में समाजवादी पार्टी की सरकार बनी। लेकिन 2016 में अखिलेश यादव ने इस भ्रम को तोड़ना चाहा। प्रदेश के मुख्यमंत्री रहते हुए अपनी विकास यात्रा का रथ लखनऊ से शुरू किया तो सत्ता से हाथ धो बैठे। अब एक बार फिर उन्होंने अपना कानपुर से जुडा पुराना टोटका अपनाया है , जिसके बाद उन्हे प्रदेश की सत्ता में वापस आने का पूरा विश्वास है।

कानपुर से शुरू की विजय रथ यात्रा (फोटो - न्यूजट्रैक)

अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है अखिलेश का विजय रथ

अखिलेश यादव की विजय रथ यात्रा में जो रथ बनाया गया है, वह मर्सिडीज की एक लग्जरी बस है , जिसमें अत्याधुनिक सारी सुविधांए हैं। इसके हर कोने में सेंसर लगा है। अगर कोई भी इसमें छेड़छाड़ करेगा तो पता चल जाएगा। इसी के अंदर अखिलेश यादव को छोटा कार्यालय बना हुआ है। साथ ही लैट्रीन बाथरूम किचेन समेत अन्य आवश्यक सुविधाएं भी हैं। मीडिया से जुड़ने के लिए इंटरनेट कम्प्यूटर और टीवी आदि की भी सुविधा है। साथ ही वीडियो काल भी की जा सकती है। इसके अलावा बस में लिफ्ट की सुविधा के रहते अखिलेश यादव जब चाहे बस की छत पर आ सकते हैं। रथ में साउंड सिस्टम भी लगा है। रथ का रिमोट अखिलेश यादव के हाथ में ही रहता है।

Shraddha

Shraddha

Next Story