Top

बंगाल चुनाव: TMC के वोट बैंक में सेंध लगाने के लिए ओवैसी ने बनाई ये खास रणनीति

एआईएमआईएम का 5 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल पश्चिम बंगाल के 4 शहरों दक्षिण 24 परगना, मालदा, मुर्शिदाबाद और दिनाजपुर का दौरा करेगा। इन सभी इलाकों में मुस्लिम आबादी काफी ज्यादा है।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 5 Feb 2021 5:51 AM GMT

बंगाल चुनाव: TMC के वोट बैंक में सेंध लगाने के लिए ओवैसी ने बनाई ये खास रणनीति
X
एआईएमआईएम इस महीने पश्चिम बंगाल के 4 शहरों में 4 अलग-अलग प्रतिनिधिमंडल भेजेगी। पार्टी के इस प्रतिनिधिमंडल में 5-5 सदस्य होंगे।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मिदनापुर: पश्चिम बंगाल में बोर्ड परीक्षा से पहले विधानसभा के चुनाव होंगे। हालांकि अभी तक चुनाव की तारीखों की घोषणा नहीं की गई है।

एक रैली के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा की इलेक्शन कमीशन अगले हफ्ते चुनाव की तारीखों का ऐलान कर सकता है।

इस बार टीएमसी और बीजेपी में कड़ा मुकाबला देखने को मिल सकता है। बीजेपी जहां ममता बनर्जी को सत्ता से बेदखल करने के लिए ताल ठोक रही है।

ममता का भ्रष्ट मंत्री! बंगाल सरकार ने शुरु कराई जांच, भाजपा ज्वाइन करना पड़ा महंगा

CM Mamata Banerjee पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी(: फोटो:सोशल मीडिया)

टीएमसी के कई बड़े नेता बीजेपी में हो चुके हैं शामिल

वहीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने किले को गिरने से बचाने में जुटी हुई हैं। शुवेंदु अधिकारी, राजीव बनर्जी समेत टीएमसी के कई बड़े नेता ममता बनर्जी का साथ छोड़कर बीजेपी ज्वाइन कर चुके हैं।

टीएमसी में मची भगदड़ से ममता बनर्जी की नींद उड़ी हुई है। उन्हें समझ में ही नहीं आ रहा कि आखिर इसे कैसे रोका जा जाए।

बीजेपी के नेता रोज नए-नये दावे कर रहे हैं। उनका दावा है कि टीएमसी के कई और बड़े नेता उनके सम्पर्क में हैं और किसी भी समय ममता बनर्जी का साथ छोड़ सकते हैं।

बंगाल चुनाव में असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम की एंट्री से इस बार टीएमसी के लिए और भी ज्यादा मुसीबतें खड़ी हो सकती है।

बजट से बंगाल में चुनावी फायदा लेने के कोशिश, जानें कितनी असरदार

Asaduddin Owaisi बंगाल चुनाव: TMC के वोट बैंक में सेंध लगाने के लिए ओवैसी ने बनाई ये खास रणनीति(फोटो:सोशल मीडिया)

4 शहरों में 4 अलग-अलग प्रतिनिधिमंडल भेजेगी एआईएमआईएम

एआईएमआईएम इस महीने बंगाल के 4 शहरों में 4 अलग-अलग प्रतिनिधिमंडल भेजेगी। पार्टी के इस प्रतिनिधिमंडल में 5-5 सदस्य होंगे।

प्रतिनिधिमंडल राज्य में पार्टी के लिए संभावना और ग्राउंड स्तर की स्थिति का आंकलन करेंगे।एआईएमआईएम का 5 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल बंगाल के 4 शहरों दक्षिण 24 परगना, मालदा, मुर्शिदाबाद और दिनाजपुर का दौरा करेगा।

इन सभी इलाकों में मुस्लिम आबादी काफी ज्यादा है।ऐसे में ओवैसी की पार्टी का मुख्य मकसद ममता बनर्जी के मुस्लिम वोट बैंक में सेंध लगाना है।

गौरतलब है कि ओवैसी हाल ही में बिहार के अपने पांचों विधायकों को बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए आब्जर्वर के तौर पर नियुक्त किया है।

ममता से दोस्ती और कांग्रेस से दूरी, पश्चिम बंगाल में राजद की बड़ी सियासी चाल

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story