Top

सनी से मिलकर फिल्मी हुए पीएम- हिन्दुस्तान जिंदाबाद था, है, और रहेगा

बीजेपी में शामिल होने वाले बॉलिवुड अभिनेता सनी देओल से पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को मुलाकात की। यही नहीं इस मुलाकात को लेकर उन्होंने सनी देओल की ही 'गदर' फिल्म का एक डायलॉग भी ट्वीट किया।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 28 April 2019 12:09 PM GMT

सनी से मिलकर फिल्मी हुए पीएम- हिन्दुस्तान जिंदाबाद था, है, और रहेगा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: बीजेपी में शामिल होने वाले बॉलिवुड अभिनेता सनी देओल से पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को मुलाकात की। यही नहीं इस मुलाकात को लेकर उन्होंने सनी देओल की ही 'गदर' फिल्म का एक डायलॉग भी ट्वीट किया। पीएम मोदी ने लिखा, 'हम दोनों का मानना है कि हिन्दुस्तान जिंदाबाद था, है, और रहेगा!' पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'सनी देओल को लेकर जो चीज मुझे प्रभावित करती है, वह है उनकी विनम्रता और बेहतर भारत के लिए उनका पैशन।'



यह भी पढ़ें... चिदंबरम ने पीएम मोदी को लेकर बोला अब तक सबसे बड़ा हमला, कही ये बातें

बीजेपी ने सनी देओल को पंजाब की गुरदारसुपर लोकसभा सीट से अपना उम्मीदवार भी बनाया है। सनी देओल की जीत की कामना करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज उनसे मिलकर खुशी हुई। हम सभी चाहते हैं कि गुरदासपुर सीट पर विजय हासिल करें। इससे पहले शनिवार को सनी देओल ने बीजेपी की ओर से पहले चुनावी कार्यक्रम में शामिल होते हुए बाड़मेर में रोड शो किया था। इस दौरान भी सनी देओल की गदर और दामिनी जैसी फिल्मों के डायलॉग बैकग्राउंड में बज रहे थे।

यह भी पढ़ें... Loksabha Election: 2019- कानपुर-बुंदेलखंड के चर्चित चेहरों की साख दांव पर

एक तरफ रैली में बेतहाशा भीड़ दिखी वहीं बैकग्राउंड में सनी देओल के समर्थक उनकी फिल्म 'गदर' का संवाद, 'हिंदुस्तान जिंदाबाद था, जिंदाबाद है और जिंदाबाद रहेगा', के नारे लगाते दिखे। बैकग्राउंड में समर्थक तो यह नारा लगा ही रहे थे, स्पीकर पर भी यह डायलॉग बज रहा था।

यह भी पढ़ें... लोकसभा चुनाव: जनता की अदालत में होगा राज परिवारों के किस्मत का फैसला

इस हाईप्रोफाइल सीट से 2014 में दिवंगत अभिनेता विनोद खन्ना ने जीत हासिल की थी, लेकिन उनके निधन के बाद हुए उपचुनाव में यह सीट कांग्रेस के खाते में चली गई थी।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story