×

Kapurthala lynching case : गुरुद्वारे का केयरटेकर गिरफ्तार, 100 अन्य के खिलाफ भी हत्या के मामले दर्ज

हाल ही में पंजाब में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले 'बेअदबी' की कोशिश तथा लिंचिंग की दो घटनाएं सामने आईं। जिसमें एक घटना कपूरथला से आई थी। इस मामले में लिंचिंग के शिकार शख्स की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ चुकी है।

Network

Newstrack NetworkPublished By aman

Published on 24 Dec 2021 8:33 AM GMT

Kapurthala lynching case : गुरुद्वारे का केयरटेकर गिरफ्तार, 100 अन्य के खिलाफ भी हत्या के मामले दर्ज
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Kapurthala lynching case : हाल ही में पंजाब में आगामी विधानसभा चुनाव से पहले 'बेअदबी' की कोशिश तथा लिंचिंग की दो घटनाएं सामने आईं। जिसमें एक घटना कपूरथला से आई थी। इस मामले में लिंचिंग के शिकार शख्स की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ चुकी है। रिपोर्ट में कहा गया है, कि मृतक पर 30 वार किए गए थे। अब इस मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने गुरुद्वारे के केयर टेकर अमरजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। केयरटेकर के खिलाफ हत्या और हत्या की कोशिश के आरोप लगे हैं। इसके अलावा 100 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मामले दर्ज हुए हैं।

इससे पहले मृत युवक पर आरोप था, कि उसने पवित्र ग्रंथ की बेअदबी की कोशिश की थी। जिसके बाद उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। बता दें, कि इससे ठीक एक दिन पहले अमृतसर के प्रसिद्ध स्वर्ण मंदिर में युवक ने संगत के दौरान तलवार उठाकर गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की कोशिश की थी। जिसके बाद भीड़ ने उसकी पीट-पीटकर जान ले ली थी।

पांच डॉक्टरों के बोर्ड ने किया पोस्टमार्टम

गौरतलब है, कि पंजाब के कपूरथला जिले के एक गुरुद्वारे में धर्मग्रंथ की कथित तौर पर 'बेअदबी' का प्रयास करने का मामला सामने आया था। जिसके बाद एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। उसके शव पर घाव के करीब 30 निशान मिले हैं। ऐसी संभावना जताई जा रही है कि तलवार से हमले के कारण वह लहूलुहान हो गया था। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। इस बात की पुष्टि वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी नरिंदर सिंह ने की है। उन्होंने मीडिया को बातचीत में बताया, कि स्थानीय सिविल अस्पताल के पांच सदस्यीय डॉक्टरों के बोर्ड ने पोस्टमार्टम किया।

बेअदबी के प्रयास के नहीं मिले कोई सबूत

इस बीच लिंचिंग में मारे गए शख्स का अंतिम संस्कार किया जा चुका है। इसकी वजह रही कि कोई भी उसका शव लेने नहीं आया। इससे पहले पंजाब के सीएम चन्नी ने शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए कहा था, कि 'हमें कपूरथला में बेअदबी के प्रयास या इसके समर्थन में कोई सबूत नहीं मिला। एक शख्स गुरुद्वारा चलाता है। धीरे-धीरे यह मामला हत्या तक पहुंच गया। जांच जारी है। इस मामले में पहले से एफआईआर (FIR) दर्ज है। जरूरत पड़ने पर संशोधन किया जाएगा।

हालांकि, पुलिस ने भी कहा था, कि यह घटना चोरी का की लगती है। 'बेअदबी की कोशिश के कोई स्पष्ट संकेत नहीं मिले हैं। मारे गए व्यक्ति की पहचान नहीं हो पाई थी। उसके शव को नगर निगम के अधिकारियों द्वारा अंतिम संस्कार कर दिया गया था।

aman

aman

Next Story