×

Punjab Election 2022: अकाली दल नेता बिक्रमजीत सिंह मजीठिया ने सीएम चन्नी को बताया अवैध रेत खनन का मास्टरमाइंड

Punjab Election 2022: अकाली दल नेता बिक्रमजीत सिंह मजीठिया ने सीएम चन्नी को अवैध रेत खनन का मास्टरमाइंड बताया है।

Anshuman Tiwari
Updated on: 22 Jan 2022 11:11 AM GMT
Punjab political news
X

अकाली दल नेता बिक्रमजीत सिंह मजीठिया ने सीएम चन्नी को बताया अवैध रेत खनन का मास्टरमाइंड  (Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Punjab News: अवैध रेत खनन (illegal sand mining) के मुद्दे पर पंजाब (Punjab political news ) की सियासत लगातार गरमाती जा रही है। अकाली दल के नेता बिक्रमजीत सिंह मजीठिया (Akali Dal leader Bikramjit Singh Majithia) ने मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (cm Charanjit Singh Channi) को अवैध रेत खनन (illegal sand mining) का मास्टरमाइंड बताया है। उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री चन्नी ने अपने भांजे भूपिंदर सिंह हनी को अवैध रेत खनन की खुली छूट दे रखी है।

मुख्यमंत्री की शह पर ही हनी अपने साथियों के साथ मिलकर अवैध रेत खनन के कारोबार में जुटा हुआ है। इसके लिए सीएम सिक्योरिटी से कमांडो और पायलट जिप्सी तक की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। अभी हाल में ईडी की ओर से भूपिंदर सिंह हनी (Bhupinder Singh Honey) के ठिकाने पर छापेमारी (Raid) की गई थी जिसमें 10 करोड़ कैश बरामद किया गया था। इसके अलावा 21 लाख की ज्वेलरी और 12 लाख की रोलैक्स घड़ी भी बरामद की गई थी। मजीठिया ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मांग की कि अब इस मामले में सीएम चन्नी के घर पर रेड की जानी चाहिए क्योंकि उनके संरक्षण में ही पंजाब में अवैध रेत खनन का कारोबार फल-फूल रहा है।

सिद्धू की चुप्पी पर उठाए सवाल

मजीठिया ने कहा कि पंजाब प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू अवैध रेत खनन के मुद्दे पर काफी मुखर रहा करते थे मगर सीएम चन्नी के भांजे के घर रेड के बाद उन्होंने पूरे मुद्दे पर चुप्पी साध ली है। उनका इस मुद्दे पर कोई बयान नहीं सामने आया है। इसलिए उन्हें यह स्पष्ट करना चाहिए कि क्या वे इसका समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस की ओर से पंजाब प्रभारी बनाए गए हरीश चौधरी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पंजाब में चल रही लूट पर निगरानी रखने के लिए उन्हें रखा गया है। सच्चाई तो यह है कि दूध की रखवाली की जिम्मेदारी एक बिल्ले को सौंप दी गई है।

मजीठिया ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अवैध रेत खनन पर स्टिंग ऑपरेशन का एक वीडियो भी जारी किया। यह वीडियो मुख्यमंत्री चन्नी के करीबी इकबाल सिंह सरपंच का बताया जा रहा है। इस वीडियो से पता चलता है कि किस तरह अवैध रेत खनन को मुख्यमंत्री चन्नी और उनके भांजे भूपिंदर सिंह का संरक्षण मिला हुआ है।

हाईकमान तक जाता है लूट का पैसा

मजीठिया ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री चन्नी के भांजे के घर ईडी की रेड में भारी मात्रा में कैश और सोना बरामद किया गया मगर कांग्रेस हाईकमान की ओर से मुख्यमंत्री के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। कांग्रेस हाईकमान मुख्यमंत्री को बचाने की कोशिश में जुटा हुआ है और इसीलिए चुनाव आयोग से ईडी की रेड पर रोक लगाने की मांग की जा रही है। इससे साफ होता है कि मुख्यमंत्री की ओर से की जा रही लूटखसोट केवल उन्हीं तक सीमित नहीं है बल्कि लूट का का पैसा कांग्रेस हाईकमान तक पहुंचाया जा रहा है। तभी पूरे मामले के खुलासे के बावजूद कांग्रेस नेतृत्व मुख्यमंत्री को बचाने की कोशिश में जुटा हुआ है।

लगातार घिरते जा रहे हैं चन्नी

दरअसल ईडी की ओर से की गई कार्रवाई के बाद मुख्यमंत्री चन्नी के ऊपर लगातार हमले हो रहे हैं। मजीठिया के अलावा आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल और भाजपा की ओर से भी यह मुद्दा जोर-शोर से उठाया जा रहा है। अरविंद केजरीवाल ने इस छापेमारी के बाद चन्नी को बेईमान बताया है तो दूसरी ओर भाजपा का कहना है कि मुख्यमंत्री को स्पष्ट करना चाहिए कि ईडी की ओर से बरामद किया गया पैसा आखिरकार किसका था। चन्नी सरकार की ओर से पिछले दिनों और ड्रग्स मामले में मजीठिया के खिलाफ केस दर्ज किया गया था और अब मजीठिया ने भी ईडी के छापे के बाद चन्नी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

Ragini Sinha

Ragini Sinha

Next Story