×

Punjab Election 2022: आपस में मिले हुए हैं कांग्रेस और अकाली, फगवाड़ा में बोले दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के बाद पंजाब में अपना मजबूत आधार रखने वाली आप इस बार कोई कसर बाकी नहीं रखना चाहती। यही वजह है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और पार्टी के ट्रंपकार्ड अरविंद केजरीवाल स्वयं पंजाब के रण में उतर चुके हैं।

Krishna Chaudhary
Updated on: 14 Feb 2022 2:57 PM GMT
Punjab Election 2022
X

अरविंद केजरीवाल की तस्वीर 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Punjab Election 2022: पंजाब में विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव प्रचार का अभियान जोरों पर है। नेताओं की धुंआधार रैली ने ठंड मौसम में भी पंजाब की सियासी फिजा को गरमाया हुआ है। पंजाब की लड़ाई इस बार दिल्ली की सरकार चलाने वाली आम आदमी पार्टी के लिए बेहद अहम माना जा रहा है।

दिल्ली के बाद पंजाब में अपना मजबूत आधार रखने वाली आप इस बार कोई कसर बाकी नहीं रखना चाहती। यही वजह है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और पार्टी के ट्रंपकार्ड अरविंद केजरीवाल स्वयं पंजाब के रण में उतर चुके हैं। दिल्ली सीएम ने फगवाड़ा में एक विशाल रोड शो कर लोगों से आप की चुनाव चिह्न झाडू पर बटन दबाने की अपील की।

आपस में मिले हुए हैं कांग्रेस और अकाली

दिल्ली के मुख्यमंत्री औऱ आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस औऱ शिरोमणी अकाली दल पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पंजाब में आप के विरोधी केवल उन्हें और पार्टी का सीएम चेहरा भगवंत मान को निशाना बना रहे हैं। सुबह से शाम तक सीएम चरणजीत सिंह चन्नी उनके खिलाफ अपशब्द का इस्तेमाल करते हैं।

लेकिन अकाली प्रमुख सुखबीर सिंह बादल के खिलाफ कुछ नहीं बोलते। सुखबीर बादल ने भी मुझे अपशब्द कहे लेकिन चन्नी का नाम नहीं लिया। प्रियंका गांधी भी आईं उन्होंने भी मुझे अपशब्द कहे। ऐसा लगता है कि पंजाब में सभी मिल गए हैं औऱ मिलकर हमें निशाना बना रहे हें। आप संयोजक ने कहा कि ये सभी विपक्षी दल आप को नहीं बल्कि पंजाब को हराना चाहते हैं।

80 सीटों पर जीतेगी आप

इस दौरान अरविंद केजरीवाल ने चुनाव परिणाम को लेकर बड़ा दावा करते हुए कहा कि इसबार हम पंजाब में 80 सीटें जीतने जा रहे हैं। हमे इससे भी अधिक सीटें लानी है जिसके लिए हम चार दिन औऱ मेहनत करेंगे। अकाली, कांग्रेस औऱ बीजेपी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि इन दलों ने 70 सालों तक पंजाब को लूटा है। सीएम चन्नी पर तंज कसते हुए कहा कि इनके सपने में मैं भूत की तरह आता हूं। वहीं सुरक्षा को लेकर हो रही राजनीति पर उन्होंने बीजेपी औऱ कांग्रेस दोनों को लपेटे में लिया। उन्होंने कहा कि इस पर सियासत नहीं होनी चाहिए। पंजाब को कांग्रेस सुरक्षा नहीं दे सकती है।

अरविंद केजरीवाल की तस्वीर

बताते चलें की 20 फरवरी को एक ही चरण में पंजाब की सभी 117 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा। जिसके नतीजे 10 मार्च को अन्य चार राज्यों के साथ आएंगे। इस बार विधानसभा चुनाव में मुकाबला पंचकोणीय नजर आ रहा है।सत्ताधारी कांग्रेस औऱ मुख्य विपक्षी आम आदमी पार्टी के अलावा अकाली बसपा गठबंधन और बीजेपी कैप्टन गठबंधन में भी चुनाव मैदान में दमखम के साथ उतरा हुआ है।

वहीं किसान आंदोलन से उपजीं संयुक्त समाज मोर्चा भी चुनाव मैदान में पहली बार उतरा है। मोर्चा को किसानों के 22 यूनियनों का समर्थन प्राप्त है। हालांकि राजनीतिक विशेषलक मान रहे हैं कि अधिकतर सीटों पर मुख्य मुकाबला कांग्रेस बनाम आप का होने वाला है।

Divyanshu Rao

Divyanshu Rao

Next Story