×

Punjab Election 2022: कैप्टन ने अपने कोटे की तीन सीटें BJP को लौटाईं, अब इतनी सीटों पर लड़ेगी भाजपा

Punjab Election 2022: पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने कोटे की तीन सीटें बीजेपी को दे दी है। इनमे नवांशगहर, राजासांसी और जीरा विधानसभा सीट शामिल है।

Krishna Chaudhary
Published on: 1 Feb 2022 6:25 AM GMT
Captain amrinder singh left congress
X

Punjab politics : कैप्टन अमरिंदर सिंह ने छोड़ा कांग्रेस, 'पंजाब लोक कांग्रेस' का ऐलान (social media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Punjab Election 2022: पंजाब में विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां जोरों पर है। अपनी पुरानी पार्टी कांग्रेस को सत्ता से बाहर कर अपने अपमान का बदला लेने के लिए चुनावी समर मे उतरे कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक बड़ा फैसला लिया है। सिंह ने अपने कोटे की तीन सीटें गठबंधन में सीनियर पार्टनर भारतीय जनता पार्टी को दे दी है। कभी कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे अमरिंदर सिंह इस दफा अपनी पार्टी पंजाब लोकहित कांग्रेस के बैनर तले चुनाव मैदान में हैं।

तीन सीटें बीजेपी को लौटाईं

पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने कोटे की तीन सीटें बीजेपी को दे दी है। इनमे नवांशगहर, राजासांसी और जीरा विधानसभा सीट शामिल है। बीजेपी ने इन तीनों सीटों पर अपने उम्मीदावरों के नाम का ऐलान कर दिया है। राजासांसी से मुखबिंदर सिंह माहल, नवाशहर से पूनम माणिक और जीरा से अवतार सिंह को भाजपा ने टिकट दिया है।

बता दें कि इससे पहले भी कैप्टन की पार्टी पंजाब लोकहित कांग्रेस के पांच उम्मीदवारों ने पार्टी के सिंबल के बजाय़ बीजेपी के सिंबल पर चुनाव लड़ने की मांग की थी। लिहाजा कैप्टन को बीजेपी से इस संबंध में गुजारिश करनी पड़ी।


इन पांचों उम्मीदवारों का तर्क था कि चूंकि उक्त सीटें शहरी क्षेत्र में आती है औऱ यहां कैप्टन की पार्टी हॉकी स्टीक के बजाय बीजेपी के कमल का फूल अधिक प्रचलन में है। बीजेपी ने कैप्टन की मांग को स्वीकारते हुए इन पांच उम्मीदवारों को अपना चुनाव चिह्न आवटिंत किया है। इस प्रकार अब 73 उम्मीदवार बीजेपी के सिंबल पुर चुनाव मैदान में होंगे। जबकि कैप्टन अमरिंदर सिंह की पार्टी के 29 उम्मीदवार पीएलसी के सिंबल पर मैदान में होंगे।

बात करें सीट बंटवारे की तो बीजेपी 65 सीटों के साथ गठबंधन की सबसे बड़ी साझेदार है। दूसरी साझेदार कैप्टन अमरिंदर सिंह की पार्टी पंजाब लोकहित कांग्रेस को 37 सीटें मिली । वहीं शिरोमणी अकादी दल से अलग हुए सुखदेव सिंह ढींढसा की पार्टी शिअद संयुक्त को 15 सीटें मिली है। पंजाब एनडीए गंठबंधन ने सभी सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया है।

कैप्टन ने पीएम मोदी की तारीफ की

विपक्ष में रहने के दौरान अक्सर बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमलावर रहे पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह अब पीएम मोदी के कसीदे पढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी 2024 के बाद भी भारत के प्रधानमंत्री के पद पर बने रहेंगे।

गौरतलब है कि पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवोजत सिंह सिध्दू से हुए अनबन के कारण सीएम की कुर्सी गंवाने वाले अमरिंदर सिंह कह चुके हैं कि इन चुनावों में उनका मुख्य लक्ष्य कांग्रेस को सत्ता से बाहर करना है, भले कोई भी सत्ता में आए। साथ ही उन्होंने अपने कट्टर प्रतिदवंदी नवजोत सिंह सिध्दू को भी विधानसभा चुनाव न जीतने देने की बात कही।

बताते चलें की 20 फरवरी को एक ही चरण में पंजाब की सभी 117 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा। जिसके नतीजे 10 मार्च को अन्य चार राज्यों के साथ आएंगे। इस बार विधानसभा चुनाव में मुकाबला पंचकोणीय नजर आ रहा है।

सत्ताधारी कांग्रेस औऱ मुख्य विपक्षी आम आदमी पार्टी के अलावा अकाली बसपा गठबंधन और बीजेपी कैप्टन गठबंधन में भी चुनाव मैदान में दमखम के साथ उतरा हुआ है। वहीं किसान आंदोलन से उपजीं संयुक्त समाज मोर्चा भी चुनाव मैदान में पहली बार उतरा है। मोर्चा को किसानों के 22 यूनियनों का समर्थन प्राप्त है।

Punjab Election 2022, assembly elections in Punjab,election season , Congress, Bharatiya Janata Party, Punjab Lokhit Congress, Amarinder Singh , Avtar Singh , Poonam Manik , Mukhbinder Singh Mahal, Zira assembly seats, Nawanshgahar assembly seats, Rajasansi assembly seats, Congress alliance

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story