×

Punjab News: अकाली नेता ब्रिकम सिंह मजीठिया को झटका, मोहाली कोर्ट ने बढ़ाई हिरासत की अवधि

Punjab News: ड्रग्स केस मामले में पटियाला सेंट्रल जेल में बंद अकाली नेता ब्रिकम सिंह मजीठिया की न्यायिक हिरासत अवधि मोहाली कोर्ट ने बढ़ा दी है। अब उन्हें 22 मार्च तक न्यायिक हिरासत में रहना होगा।

Krishna Chaudhary
Updated on: 8 March 2022 10:56 AM GMT
Akali leader Brikmjit Singh Majithia
X

अकाली नेता ब्रिकमजीत सिंह मजीठिया। (Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Punjab News: पंजाब के कद्दावर अकाली नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया (Former cabinet minister Bikram Singh Majithia) को तगड़ा झटका लगा है। ड्रग्स केस मामले में पटियाला सेंट्रल जेल में बंद बिक्रम सिंह मजीठिया (Former cabinet minister Bikramjit Singh Majithia) की न्यायिक हिरासत अवधि मोहाली कोर्ट ने बढ़ा दी है। अब उन्हें 22 मार्च तक न्यायिक हिरासत में रहना होगा। दरअसल मजीठिया की रेगुलर जमानत याचिका को मोहाली कोर्ट पहले ही खारिज कर दिया था। ऐसे में इसे अकाली नेता के लिए बड़े झटके तौर पर देखा जा रहा है।

मंगलवार को मोहाली कोर्ट ने स्पष्ट कर दिया कि ड्रग्स मामले में सलाखों के पीछे कैद शिरोमणि अकाली दल के कद्दावर नेता मजीठिया की न्यायिक हिरासत आगामी 22 मार्च तक बढ़ायी जा रही है। इससे पहले पंजाब विधानसभा चुनाव को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मजीठिया की गिरफ्तारी पर 23 मार्च तक स्टे लगा दिया था। दरअसल मजीठिया पंजाब में बतौर अकाली उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए उन्होंने अगले दिन यानि 24 फरवरी को मोहाली कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया था। 24 फरवरी को अदालत ने उन्हें 8 मार्च तक न्याय़िक हिरासत में भेज दिया था।

जेल में मजीठिया पर सख्ती

पंजाब के सबसे रसूखदार सियासी परिवार बादल परिवार से करीबी संबंध रखने वाले बिक्रम सिंह मजीठिया (Former cabinet minister Bikram Singh Majithia) की अकाली – भाजपा सरकार के दौरान सूबे में तूती बोलती थी। अकाली की सरकार जाने के बाद कांग्रेस ने उनपर शिकंजा कसना शुरू कर दिया था। पटियाला केंद्रीय जेल में कैद मजीठिया पर जेल प्रशासन भी अब काफी सख्ती बरत रहा है। बड़ी संख्या में मुलाकात करने पहुंचने वाले अकाली नेताओं की एंट्री पर लगाम कसते हुए जेल प्रशासन ने कहा कि अब हफ्ते में केवल दो बार किसी एक पारिवारिक सदस्य को उनसे मिलने की इजाजत होगी।

बता दें कि बिक्रम सिंह मजीठिया (Former cabinet minister Bikram Singh Majithia) इस पर अपने पारंपरिक सीट मजीठा को छोड़कर अमृतसर पूर्व से पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिध्दू के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। मुकाबला बेहद हाईप्रोफाइल होने की वजह से सभी की उस सीट के परिणाम पर नजर है। 10 मार्च को चुनाव के नतीजे आने हैं। हालांकि उससे पहले आए तमाम एग्जिट पोल पंजाब में अकाली दल के प्रदर्शन को बेहद खराब बता रहे हैं।

देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story