×

कैप्टन ने पूरा किया वादा, ओलिंपिक विजेता खिलाड़ियों को अपने हाथों से परोसा लजीज खाना

पंजाब मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने टोक्यो ओलंपिक के विजेताओं के लिए अपने हाथों से भोजन तैयार किया और अपने हाथों से परोस कर खिलाया।

Network

NetworkNewstrack NetworkDeepak KumarPublished By Deepak Kumar

Published on 9 Sep 2021 1:55 AM GMT

Punjab CM Amarinder Singh serves food to Olympic winning players with his own hands
X

पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने ओलिंपिक विजेता खिलाड़ियों को अपने हाथों से परोसा खाना

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Punjab News: पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पिछले महीने तोक्यो ओलिंपिक में भाग लेने वाले और पदक जीतने वाले पंजाब के खिलाड़ियों से एक वादा किया था। जो उन्होंने पूरा कर दिया है। दरअसल सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने हाथों से भोजन तैयार करेंगे और परोसेगें भी। इसी वादे के मुताबिक मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने टोक्यो ओलंपिक के विजेताओं के लिए बुधवार को अपने हाथों से भोजन तैयार किया और अपने हाथों से परोस कर खिलाया। राज्य सरकार की ओर से कहा गया कि सीएम ने खुद भोजन तैयार किया है। रात्रिभोज का आयोजन मोहाली के सिसवां में सिंह फार्म हाउस में किया गया। इसमें गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा समेत अन्य पदक विजेता शामिल हुए।

सुबह 11 बजे से की थी खाना बनाने की शुरुआत

आपको बता दें कि शेफ के रूप में घंटों की कड़ी मेहनत के बाद कैप्टन अमरिंदर के चेहरे पर संतुष्टि थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने सुबह 11 बजे शुरुआत की। इसमें से अधिकांश शाम 5 बजे के आसपास बनाया गया। मेनू किसी शाही दावत से कम नहीं था। मटन खारा पिशोरी, लॉन्ग इलाची चिकन, आलू कोरमा, दाल मसरी, मुर्ग कोरमा, दुगानी बिरयानी और जर्दा चावल (मीठी डिश) बने थे।

हॉकी कप्तान मनप्रीत सिंह (डीएसपी पंजाब पुलिस) ने कहा कि उन्होंने कैप्टन के खाना पकाने के बारे में सुना था लेकिन आज उन्होंने जो स्वाद लिया वह उनकी उम्मीदों से अधिक था। नीरज चोपड़ा ने कहा कि भोजन में घी ज्यादा था, लेकिन बहुत ही स्वादिष्ट था।

सीएम अमरिंदर ने ट्विटर पर वीडियो भी शेयर करते हुए लिखा है कि आज रात के खाने के लिए हमारे ओलंपियनों की मेजबानी करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। उनके लिए खाना बनाने में बहुत मजा आया। आप ऐसे ही देश का गौरव बढ़ाते रहें।

पुरुष हॉकी टीम ने 4 दशक बाद जीता था मेडल

इससे पहले सीएम ने ओलिंपिक (Tokyo 2020) पदक विजेताओं और खेलों के महाकुंभ में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों को 32 करोड़ से अधिक पुरस्कार राशि वितरित किए थे। उस सम्मान समारोह में गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा उपस्थित नहीं थे।

कैप्टन ने राज्य के 11 हॉकी खिलाड़ियों को एक से 2. 51 करोड़ रुपये तक पुरस्कार के रूप में दिए। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ओलिंपिक में 41 साल बाद ब्रॉन्ज मेडल जीता था। महिला हॉकी सेमी फाइनलिस्ट गुरजीत कौर और रीना खोखर, रिजर्व हॉकी खिलाड़ी कृष्ण बहादुर पाठक और ओलंपिक फाइनल एथलीट कमलप्रीत कौर भी मेहमानों में शामिल रहे।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story