×

पंजाब की सियासत में कैप्टन की पाकिस्तानी मित्र अरूसा आलम की एंट्री, कांग्रेस की कलह पर कसा तंज

Punjab Politics: मीडिया से बातचीत के दौरान अरूसा आलम ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री के पद से हटाने के लिए सुनियोजित साजिश रची गई थी।

Anshuman Tiwari
Written By Anshuman TiwariPublished By Shreya
Published on: 5 Feb 2022 1:40 PM GMT
पंजाब की सियासत में कैप्टन की पाकिस्तानी मित्र अरूसा आलम की एंट्री, कांग्रेस की कलह पर कसा तंज
X

अमरिंदर सिंह-अरूसा आलम (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Punjab Politics: पंजाब में विधानसभा चुनाव (Punjab Vidhan Sabha Chunaav) के सियासी घमासान में पाकिस्तान की महिला पत्रकार अरूसा आलम (Aroosa Alam) की भी एंट्री हो गई है। अरूसा आलम पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) की पाकिस्तानी महिला मित्र हैं और उन्होंने कांग्रेस नेताओं के बीच चल रहे घमासान की ओर इशारा करते हुए कहा है कि पंजाब में कांग्रेस (Punjab Congress) अपने कर्मों की सजा भुगत रही है।

उन्होंने कैप्टन को जुझारू और साफ-सुथरी छवि का नेता बताया है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में पंजाब को कैप्टन की काफी जरूरत है। उन्होंने कैप्टन को मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने के कांग्रेस नेतृत्व के फैसले की भी आलोचना की है।

साजिश रचकर कैप्टन को हटाया गया

मीडिया से बातचीत के दौरान अरूसा आलम ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री के पद से हटाने के लिए सुनियोजित साजिश रची गई थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व का यह फैसला लोकतांत्रिक नहीं था क्योंकि पार्टी ने पिछला विधानसभा चुनाव कैप्टन अमरिंदर सिंह के चेहरे पर ही लड़ा था। इसलिए कैप्टन को पूरे कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री के रूप में काम करने का मौका मिलना चाहिए था मगर कांग्रेस की ओर से उनकी पीठ में छुरा भोंकने का काम किया गया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अलोकतांत्रिक तरीके से राज्य में मुख्यमंत्री पद पर चरणजीत सिंह चन्नी की ताजपोशी कर दी। अरूसा ने कहा कि चन्नी काफी कमजोर मुख्यमंत्री हैं और उनमें कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरह जुझारू तेवर नहीं है। कैप्टन की छवि साफ-सुथरी और बेदाग रही है और पंजाब को अभी भी उनकी जरूरत है।

सिद्धू और उनकी पत्नी पर भी लगाया बड़ा आरोप

पाकिस्तान की महिला पत्रकार ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और उनकी पत्नी मेरै बारे में उल्टा सीधा बयान देते रहे हैं मगर उन्हें यह नहीं भूलना चाहिए कि उनके ऊपर भी गंभीर आरोप हैं। पंजाब में यह बात आम तौर पर कही जाती है कि सिद्धू अपने काम के सिलसिले में ज्यादातर समय मुंबई में ही बिताया करते थे और उनकी पत्नी नवजोत कौर ही उनका मंत्रालय चलाया करती थीं। पैसे के मामले में भी वे बहुत कमजोर रही हैं और हर काम कराने के बदले में हमेशा पैसा लिया करती थीं। दूसरों पर आरोप लगाने से पहले उन्हें अपने गिरेबान में झांकना चाहिए। अरूसा ने कहा कि पंजाब की सियासत में कैप्टन अमरिंदर सिंह की अनदेखी नहीं की जा सकती।

(फोटो साभार- सोशल मीडिया)

पंजाब की सियासत में छाईं अरूसा

पंजाब की सियासत में अरूसा आलम का नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं है और समय-समय पर उन्हें लेकर राज्य की सियासत गरमाती रही है। पिछले साल सितंबर महीने के दौरान कैप्टन को मुख्यमंत्री पद से हटाया गया था और उस समय भी पंजाब की सियासत में अरूसा को लेकर खूब चर्चा हुई थी। कैप्टन पर हमलावर रुख अपनाते हुए राज्य के डिप्टी सीएम सुखबीर सिंह रंधावा ने यहां तक कह डाला था कि अरूसा के पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से रिश्तों की जांच की जानी चाहिए।

उनके इस बयान के बाद राज्य में सियासी तूफान खड़ा हो गया था और कैप्टन के मीडिया सलाहकार ने सोनिया गांधी के साथ अरूसा की तस्वीर जारी कर दी थी। सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने कैप्टन के कार्यकाल में अरूसा पर करोड़ों रुपए की कमाई करने का सनसनीखेज आरोप भी लगाया था। कैप्टन ने सारे आरोपों का खंडन करते हुए कहा था कि उन्हें बदनाम करने के लिए कांग्रेस नेताओं की ओर से तथ्यहीन आरोप लगाए जा रहे हैं।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story