Top

गुमशुदा हुए सनी देओल, लगाए गए गुमशुदगी के पोस्टर, जानें किसने किया ये कांड

पठानकोट के रेलवे स्टेशन और बस स्टैंडों पर गुरदासपुर के सांसद व बॉलीवुड एक्टर सनी देओल के गुमशुदगी के पोस्टर लगाए गए है।

Network

NetworkNewstrack NetworkChitra SinghPublished By Chitra Singh

Published on 3 Jun 2021 9:30 AM GMT

Sunny Deol
X

सनी देओल और पोस्टर (डिजाइन फोटो- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

चंडीगढ़: पठानकोट में गुरदासपुर के सांसद और बॉलीवुड एक्टर सनी देओल (Sunny Deol) के गुमशुदा होने के पोस्टर लगाए गए है। ये पोस्टर खासकर बस स्टैंड और रेलवे स्टेशनों पर लगाए गए हैं। क्या वाकई सनी देओल की गुम हो गए है या फिर इस मामले में किसी विपक्ष का हाथ है। आइए जानते है क्या है पूरा मामला...

कुछ दिन पहले पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) की गुमशुदगी के पोस्टर लगाए गए थे और अब सनी देओल (Sunny Deol) के गुमशुदा होने के पोस्टर लगाए जा रहे है। चस्पाए गए इन पोस्टरों पर लिखा है, "गुमशुदा की तलाश। सन्नी देओल, सांसद गुरदासपुर।"

पोस्टर में सबसे नीचे लिखा गया है, "सन्नी देओल जी जिस किसी को भी मिले, वह जिला युवा कांग्रेस पठानकोट से संपर्क करें और उचित इनाम पाएं।" आपको बता दें कि ये पोस्टर युवा कांग्रेस (Youth Congress) के द्वारा जारी किया गया है। युवा कांग्रेस (Youth Congress) के कार्यकर्ताओं ने इन पोस्टरों को रेलवे स्टेशन और बस स्टैंडों पर लगाया है।

युवा कांग्रेस (Youth Congress) के महासचिव वरुण कोहली (Varun Kohli) ने इन पोस्टरों को जारी किया है और कहा है कि गुरदासपुर कोरोना महामारी (Corona epidemic) से जुझ रहा है और सनी देओल अपनी माया नगरी मुंबई में व्यस्त है। इस महामारी के संकट में जहां उन्हें जनता की मदद करना चाहिए, वहां वे अपने घर में बैठे हुए हैं। चुनाव जीतने के बाद वे जनता के बीच भी आना भी कम कर दिया है।

पोस्टर लगने के बाद पठानकोट दफ्तर प्रभारी पंकज जोशी (Pankaj Joshi) ने इस सफाई दी है। उन्होंने बताया कि अपने क्षेत्र में कोरोना महामारी के दौरान सनी देओल ने जनता के लाखों मास्क (Mask), सैनिटाइजर (Sanitizer) भिजवाए हैं। इतना ही उन्होंने मॉर्डन तकनीकी वाले तीन एडवांस लाइफ सपोर्ट (ALS) एंबुलेंस भी जनता के लिए उपलब्ध कराए हैं।

बताते चलें कि पिछले साल भी पठानकोट रेलवे स्टेशन पर सनी देओल के गुमशुदगी के पोस्टर लगाए गए थे और उन पर आरोप लगाया गया था कि लोकसभा चुनाव जीतने के बाद सनी देओल एक बार भी गुरदासपुर का दौरा करने नहीं आए। इसके अलावा उन क्षेत्र में विकास को लेकर भी आरोप लगाए गए थे।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story