Top

राजस्थान में कोरोना विस्फोट: एक दिन में आए इतने मामले, सरकार ने लिया बड़ा फैसला

1 अप्रैल से राजस्थान में 1 करोड़ 19 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण होगा।

Suman

SumanBy Suman

Published on 26 March 2021 3:24 AM GMT

राजस्थान में कोरोना विस्फोट: एक दिन में आए इतने मामले, सरकार ने लिया बड़ा फैसला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर: पूरे देश दुनिया में कोरोना का कहर अभी शांत नहीं हुआ है। महाराष्ट्र के बाद अब राजस्थान की स्थिति भी कोविड-19 के मामले में अच्छी नहीं है। राजस्थान में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। गुरुवार को 700 से अधिक नए मामले सामने आए। वहीं, वैक्सीनेशन की रफ्तार भी लगातार बढ़ रही है। अब तक 50 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण हो चुका है।1 अप्रैल से राजस्थान में 1 करोड़ 19 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण होगा।

715 नए मामलों ने

कोरोना के 715 नए मामलों ने गहलोत सरकार की नींद उड़ा दी है। इनमें सबसे ज्यादा जोधपुर में 127 केस सामने आये हैं। वहीं कोटा में 80, जयपुर में 77, अजमेर में 54, अलवर में 14, बांसवाड़ा में 10, बारां में 18, भीलवाड़ा में 22, चित्तौड़गढ़ में 14, डूंगरपुर में 55, नागौर में 13, प्रतापगढ़ में 14, राजसमंद में 22, सीकर में 12, सिरोही में 49 और उदयपुर में 67 नए मामले सामने आए हैं।

राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 5149 हो चुकी है। 16 जनवरी से शुरू हुए वैक्सीनेशन अभियान के 69 दिनों में 50 लाख से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, गुरुवार तक प्रदेश में 50 लाख 57 हजार 509 लोगों को कोरोना की डोज लगी है। इनमें 43 लाख 87 हजार 817 लोगों को पहली डोज और 6 लाख 69 हजार 692 लोगों को दूसरी डोज लग चुकी है।

कुल 60 लाख डोज

रिपोर्ट और खबरों के अनुसार राजस्थान को अब तक कुल 60 लाख डोज मिल चुकी है। 1 अप्रैल से प्रदेश में इसका तीसरा चरण शुरू होगा। तीसरे चरण को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां तेज कर दी हैं। तीसरे चरण के लिए 45 साल के ऊपर की आयु के एक करोड़ 22 लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है। इनमें से करीब 3 लाख गंभीर बीमारियों के मरीजों का टीकाकरण हो चुका है। इसलिए 1 अप्रैल से शुरू होने जा रहे तीसरे चरण में एक करोड़ 19 लाख लोगों का टीकाकरण होगा।







होली पर सख्त सरकार

राजस्थान में भी कोरोना के मामलों में भारी बढ़ोतरी हो रही है। इसी कारण, हमने फिर से कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग कर रही है। साथ ही मेरी सभी से अपील है कि जैसे प्रदेशवासियों ने मिलकर सावधानी के साथ कोरोना को पहले हिस्से में हराया है, उसी तरह हम सभी को इस दूसरी लहर को भी पराजित करना है। इसी के चलते प्रदेश सरकार ने इन राज्यों से आने वाले लोगों की नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दी है। रिपोर्ट नहीं लाने वाले लोगों को 15 दिन क्वारंटाइन में रखा जाएगा। होली पर किसी भी तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम पर सख्ती से रोक लगा दी गई है।

Suman

Suman

Next Story