Top

प्यार की अजब कहानी सुनो: 82 की उम्र में आई 21 की जवानी

कुलधरा का रहने वाला यह प्रेमी अपनी प्रेमिका से मिलने के लिए ऑस्ट्रेलिया भी गया, 30,000 रुपये का कर्ज भी लिया, वहाँ रहा।

Suman

SumanBy Suman

Published on 3 April 2021 5:56 AM GMT

प्यार की अजब कहानी सुनो: 82 की उम्र में आई 21 की जवानी
X

सोशल मीडिया से फोटो

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जैसलमेर : प्यार करने वाले कभी डरते नहीं, प्यार हर सीमा से परे है, इसे न तो कोई हवा का झोंका, न ही नदी-पर्वत रोक सकते हैं। मतलब ये कि प्यार की न तो कोई सीमा होती है और न ही उम्र, ये केवल किताबी बातें नहीं बल्कि सच्चाई है। प्यार की एक ऐसी दास्तां बता रहे है जो राजस्थान के जैसलमेर से है। यहां के पौराणिक गांव कुलधरा के 82 साल के बुजुर्ग की प्रेम कहानी । जो एक चौकीदार की नौकरी करते हैं। इस बुजुर्ग की प्रेम कहानी हमें प्यार की तमाम पुरानी कहावतों पर भरोसा करने पर मजबूर करती हैं।

एक इंटरव्यू में 82 साल के बुजुर्ग चौकीदार ने बताया कि यह उन दिनों की बात है जब पहली नजर में प्यार होता था। उन्होंने कहा कि जब वह 30 साल के थे तब पहली बार अपनी जिंदगी के प्यार से मिले थे। 1970 का दशक था और जगह थी जैसलमेर। मरीना नाम की ऑस्ट्रेलियाई महिला पांच दिनों की यात्रा पर घूमने आई थी। तभी दोनों को एक-दूसरे से प्यार हो गया।

उन्होंने बताया कि दोनों को ही पहली नजर में प्यार हो गया था और दोनों एक-दूसरे से अपनी नजरें नहीं हटा पाते थे। ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना होने से पहले, मरीना ने अपनी भावनाओं को जाहिर किया था। उन्होंने कहा, " उसने मुझे आई लव यू कहा,मैं बहुत शर्मीला था। मैं आई लव यू 'सुनकर शर्म से लाल हो गया था।।

कर्ज लेकर ऑस्ट्रेलिया गए

उऩ्होंने बताया, "मुझ से पहले किसी ने भी ये शब्द नहीं कहे थे। मैंने जवाब में एक शब्द भी नहीं कहा।"दोनों के बीच चिट्ठियों के जरिए लंबे समय तक बातचीत होती रही। बता दें कि वास्तव में,कुलधरा का रहने वाला यह प्रेमी अपनी प्रेमिका से मिलने के लिए ऑस्ट्रेलिया भी गया और अपने परिवार को बिना बताए अपनी यात्रा के लिए 30,000 रुपये का कर्ज भी लिया और लगभग तीन महीने तक वहाँ रहा।

परिवार के कारण नहीं मिल पाए

उन्होंने कहा, उन 3 महीनों में जादुई तरीके से मुझे अंग्रेजी सिखाई गई, मैंने उन्हें घूमर करना सिखाया। लेकिन फिर मरीना ने कहा, चलो शादी कर लें और ऑस्ट्रेलिया में बस जाएं! तभी चीजें जटिल हो गईं। वह राजस्थान में अपने परिवार को छोड़ने के लिए तैयार नहीं थे, जबकि मरीना भारत में रहने के लिए तैयार नहीं थीं। यह निर्णय कठिन था, जिसके बाद दोनों अलग हो गए।




बाद में शादी कर ली

जैसे-जैसे समय बीतता गया, उन्होंने पारिवारिक दबाव में शादी कर ली और कुलधरा के चौकीदार के रूप में नौकरी कर ली। वो बताते हैं, "लेकिन मैं अक्सर मरीना के बारे में सोचता हूं कि क्या उसने शादी कर ली है?", I क्या मैं उसे फिर कभी देख पाऊंगा? 'लेकिन मुझे कभी भी उसे लिखने की हिम्मत नहीं हुई।' उन्होंने कहा कि समय बीतने के साथ उनकी यादें फीकी पड़ गईं। उनके बेटे बड़े हो गए और बाहर चले गए और बुजुर्ग ने बताया कि 2 साल पहले उनकी पत्नी गुजर गईं। वहीं करीब 50 साल बाद मरीना ने उन्हें खोज लिया और अब वह हर दिन उन्हें फोन करती हैं।

प्यार ने लौटा दी जवानी

कुलधरा गांव का इतिहास भी पुराना है। इसे भुतिया गांव के नाम से जाना जाता है। यहाँ प 82 वर्षीय व्यक्ति चौकीदार है, उसके आश्चर्य की बात है कि जिंदगी ने उनके साथ दोबारा कुछ ऐसा कर दिखाया! जिसकी उम्मीद नही थी। एक महीने पहले, मरीना ने बुजुर्ग को पत्र लिखा; उसने पूछा, 'कैसे हो तुम, मेरे दोस्त? '50 साल बाद, उसने ढूंढ़ लिया! तब से, वह हर दिन फोन करती है; हमारे पास बात करने के लिए बहुत कुछ है! " उन्होंने कहा कि मरीना ने कभी शादी नहीं की और जल्द ही भारत आने की योजना बना रही है। उन्होंने कहा, "रामजी की कसम, मुझे ऐसा लगता है मैं फिर से 21 साल का हो गया हूं।" कैसा महसूस कर रहा हूं मैं समझा नहीं सकता है।

Suman

Suman

Next Story