×

जन आक्रोश रैली में गहलोत सरकार पर जमकर गरजे जेपी नड्डा, कहा- सीएम गहलोत को नहीं प्रदेश की चिंता

Jan Akrosh Rally Rajasthan: राजस्थान में विधानसभा चुनावों से पहले बीजेपी ने जन आक्रोश अभियान की शुरूआत की है जहां जयपुर में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने 51 जन आक्रोश रथों को बीजेपी का झण्डा दिखाकर रवाना किया. बीजेपी के रथ प्रदेश की कांग्रेस सरकार के खिलाफ सभी 200 विधानसभा सीटों में जन आक्रोश यात्रा निकालेंगे.

Bodhayan Sharma
Written By Bodhayan Sharma
Published on: 1 Dec 2022 1:06 PM GMT
जन आक्रोश रैली में गहलोत सरकार पर जमकर गरजे जेपी नड्डा, कहा- सीएम गहलोत को नहीं प्रदेश की चिंता
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Jan Akrosh Rally Rajasthan: राजस्थान में विधानसभा चुनावों से पहले बीजेपी ने जन आक्रोश अभियान की शुरूआत की है जहां जयपुर में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने 51 जन आक्रोश रथों को बीजेपी का झण्डा दिखाकर रवाना किया. बीजेपी के रथ प्रदेश की कांग्रेस सरकार के खिलाफ सभी 200 विधानसभा सीटों में जन आक्रोश यात्रा निकालेंगे. गुरुवार को जयपुर के आदर्श नगर दशहरा मैदान में हुए कार्यक्रम में जेपी नड्डा ने गहलोत सरकार पर जमकर हमला किया और केंद्र की मोदी सरकार की योजनाओं के बारे में बताते हुए गहलोत सरकार पर केंद्र की योजनाओं का नाम बदलने का आरोप लगाया.

नड्डा ने कहा कि राजस्थान की भूमि त्याग और तपस्या, शौर्य और बलिदान के लिए पहचानी जाने वाली भूमि है, मैं इस भूमि को नमन करता हूं और आशा करता हूं कि जन आक्रोश यात्रा को राजस्थान की जनता का पूरा समर्थन मिलेगा, यहां पिछले 4 साल में कांग्रेस ने जनता की आंखों में धूल झोंकने का काम किया. वहीं नड्डा से पहले जनसभा को सतीश पूनिया, वसुंधरा राजे, गुलाब चंद कटारिया ने भी संबोधित किया. बता दें कि आदर्श नगर मैदान से रवाना होने वाले बीजेपी के जन आक्रोश रथ प्रदेश की 200 विधानसभाओं में जाएंगे. वहीं प्रदेश में अशोक गहलोत सरकार के 17 दिसंबर को चार साल पूरे हो रहे हैं ऐसे में बीजेपी जन आक्रोश अभियान के जरिए जनता के बीच जा रही है जहां बीजेपी के वरिष्ठ नेता सरकार की विफलताओं पर कई जनसभाएं भी करेंगे.

सिर्फ नाम बदलने में विश्वास रखते हैं गहलोत:

नड्डा ने अशोक गहलोत पर सीधा हमला करते हुए कहा कि अगर कोई नेता भामाशाह स्वास्थ्य योजना का नाम बदलकर चिरंजीवी योजना कर दे तो इसको किताब बदलना नहीं जिल्द बदलना कहते हैं. उन्होंने कहा कि गहलोत सरकार ने अन्नपूर्णा योजना को बदल कर इंदिरा रसोई कर दिया क्योंकि उन्हें उसी परिवार का गीत गाना है, इससे कांग्रेसी नेताओं की हल्की सोच का पता चलता है.

नड्डा ने कहा कि हम डबल इंजन में विश्वास करते हैं और राजस्थान से दिल्ली का इंजन हटते ही यहां विकास रूक गया. उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत ने पिछले 4 साल में सिर्फ अपनी पार्टी की चिंता की है.वहीं नड्डा ने संबोधन में अपील करते हुए अगर आप चाहते हैं कि आपकी बहनें सुरक्षित रहें, यहां रोजगार के अवसर बनें और राजस्थान में भी पेट्रोल-डीजल के दाम घटें, बिजली के दाम घटें तो इस सरकार को गद्दी से हटाना ही होगा. नड्डा ने राजस्थान में हुई सांप्रदायिक तनाव की घटनाओं पर भी गहलोत सरकार को घेरा. वहीं गहलोत सरकार पर केंद्र सरकार की जल जीवन मिशन योजना को रोकने का आरोप लगाया.

वैक्सीन पर कांग्रेस ने खड़े किए सवाल:

नड्डा ने कहा कि कांग्रेसी नेताओं ने देश में बनी कोरोना की वैक्सीन पर सवाल खड़े कर दिए लेकिन पीएम मोदी ने जनता को फ्री में डबल डोज देकर जनता को कोरोना से मुक्त करवाया. उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन पर कांग्रेसी नेताओं ने जनताा को गुमराह किया. इसके आगे नड्डा बोले कि कोरोना के बाद से, जब चीन लड़खड़ा रहा है, अमेरिका ठीक से खड़ा नहीं हो पा रहा है, यूरोप की हालत सही नहीं है, ऐसे हालातों में भी भारतीय अर्थव्यवस्था तेजी से आगे बढ़ रही है और भारत आज विकास की नई छलांग लगा रहा ह.

आपसी लड़ाई में उलझी कांग्रेस : वसुंधरा राजे

वहीं रैली में संबोधित करते हुए वसुंधरा राजे ने कहा कि राजस्थान में CM और पूर्व डिप्टी CM की लड़ाई में कांग्रेस सरकार उलझी हुई है, दोनों नेताओं में आपस में बात तक नहीं होती है और अफसर और मंत्री भी आपस में झगड़ रहे हैं ऐसे में यह जन आक्रोश यात्रा खाली बीजेपी के लिए नहीं है राजस्थान की जनता के लिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि कांग्रेस सरकार अब कुछ दिनों की है.

उन्होंने नड्डा की तारीफ करते हुए कहा कि जेपी नड्डा जहां भी जाते हैं वहां कमल खिलाकर आते हैं. पिछले 4 साल में राजस्थान में कांग्रेस सरकार ने झांसा दिया है और सभी चुनावी वादों को भूल गई. राजे ने कहा कि 2019 में पीएम मोदी के नेतृत्व में राजस्थान में 25 कमल खिले, हमारा मूल मंत्र सेवा और सुशासन रहा है. राजे ने गहलोत सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि राज्य में देवी-देवताओं अपमान हो रहा है और पुजानी आत्महत्या कर रहे हैं.

Bodhayan Sharma

Bodhayan Sharma

Next Story