Draupadi Murmu: सुरक्षा घेरा तोड़कर राष्ट्रपति के महिला इंजीनियर ने छुए पैर, राजस्थान सरकार ने किया निलंबित

Draupadi Murmu: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की सुरक्षा में भारी चूक को देखते हुए जल आपूर्ति विभाग ने कार्रवाई करते हुए इंजीनियर अंबा सियोल को निलंबित कर दिया।

Jugul Kishor
Published on: 14 Jan 2023 9:35 AM GMT
Draupadi Murmu
X

सुरक्षा घेरा तोड़कर राष्ट्रपति के पैर छूती महिला इंजीनियर (Pic: Social media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Draupadi Murmu: राजस्थान सरकार की एक महिला जूनियर इंजीनियर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के पैर छूना भारी पड़ा गया है। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की सुरक्षा में भारी चूक को देखते हुए जल आपूर्ति विभाग ने कार्रवाई करते हुए जूनियर इंजीनियर अंबा सियोल को निलंबित कर दिया है। महिला जूनियर इंजीनियर को प्रोटोकॉल का उल्लंघन मानते हुए निलंबित कर दिया गया। निलंबन के दौरान अंबा सियोल का मुख्यालय बाड़मेर में रहेगा। बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मामले की गंभीरता को देखते हुए राजस्थान पुलिस से रिपोर्ट तलब की थी।

जानें क्या है पूरा मामला?

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 4 जनवरी को पाली जिले के रोहट आई थीं। जहां राष्ट्रपति ने राष्ट्रीय स्काउट गाइड्स के जंबोरी का उद्घाटन किया। जब हेलीपैड पर राष्ट्रपति का स्वागत किया जा रहा था, तब जूनियर इंजीनियर अंबो सियोल ने राष्ट्रपति के पैर छुए। जिसको लेकर अब गृह मंत्रालय के जल आपूर्ति विभाग द्वारा दोबारा जांच के बाद सियोल को निलंबित कर दिया गया है। जिलाधिकारी ने जलदाय विभाग को इस संबंध में कार्रवाई करने को कहा था। पुलिस ने रिपोर्ट तैयार कर पुलिस मुख्यालय को भेजी थी। इसमें प्रोटोकॉल तोड़ने की बात लिखी।

राष्ट्रपति के पैर छूने के दौरान महिला जेईएन को राष्ट्रपति के सुरक्षाकर्मियों ने हटाया। लेकिन, तब तक वह राष्ट्रपति मुर्मू के पैर छू चुकी थीं। इसके बाद एसपी गगनदीप सिंगला के निर्देश पर जूनियर इंजीनियर को रोहट थाने ले जाया गया, लेकिन कुछ घंटे बाद हिदायत देकर छोड़ दिया गया था। मामले को रिकॉर्ड में नहीं लिया गया। इसका वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस अधीक्षक गगनदीप सिंगला ने महिला जूनियर इंजीनियर के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के लिए जिलाधिकारी को पत्र लिखा था।

बता दें कि अंबा 6 महीने से सियोल रोहट में जल आपूर्ति विभाग में कार्यरत हैं। वह छह साल पहले सरकारी सेवा में आई हैं। जंबूरी स्थल पर पानी की व्यवस्था के लिए उनकी ड्यूटी लगी हुई थी। उनका पास भी बन गया था। लेकिन अंबा सियोल प्रोटोकाल तोड़ राष्ट्रपति के पास पैर छूने गई थी।

Jugul Kishor

Jugul Kishor

Content Writer

मीडिया में पांच साल से ज्यादा काम करने का अनुभव। डाइनामाइट न्यूज पोर्टल से शुरुवात, पंजाब केसरी ग्रुप (नवोदय टाइम्स) अखबार में उप संपादक की ज़िम्मेदारी निभाने के बाद, लखनऊ में Newstrack.Com में कंटेंट राइटर के पद पर कार्यरत हूं। भारतीय विद्या भवन दिल्ली से मास कम्युनिकेशन (हिंदी) डिप्लोमा और एमजेएमसी किया है। B.A, Mass communication (Hindi), MJMC.

Next Story