×

How To Adjust In Joint Family: नई बहू की नई जिम्मेदारियां, ऐसे करें जॉइंट फैमिली में एडजस्ट

How To Adjust In Joint Family: 10-12 लोगों का एक ही छत के नीचे रहना, दुख-सुख में एक दूसरे के लिए खड़े हो जाना और मिलकर ज़िम्मेदारियों को निभाना ही संयुक्त परिवार है।

Pallavi Srivastava

Pallavi SrivastavaWritten By Pallavi Srivastava

Published on 14 Oct 2021 3:14 PM GMT

Joint Family
X

संयुक्त परिवार pic(social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

How To Adjust In Joint Family: वैसे अब ज्वांट फैमिली का कल्चर(joint family culture) धीरे-धीरे खत्म सा हो रहा है। पुराने रीति रिवाज अब नये जमाने के साथ बल रहे हैं। चाहे मां बाप हों या बच्चे अब ज्यादातर घरों में अकेले-अकेले ही रहते हैं। पैरेंट्स चाहकर भी अपने बच्चे के साथ नहीं रह पाते कोई न कोई समस्या सामने खड़ी हो ही जाती है। ऐसे में संयुक्त परिवार में रहना(Sanyukt Pariwar Me Rahna)थोड़ा टफ टॉस्क है। क्योंकि संयुत परिवार में ज्यादा लोग होते हैं और उन सबके विचार व धारणाएं एक समान नहीं होती हैं। और इसी कारण से परिवार में विवाद पैदा हो जाता है।

हांलाकि संयुक्त परिवार में रहने के अपने अलग ही मजे हैं। 10-12 लोगों का एक ही छत के नीचे रहना, दुख-सुख में एक दूसरे के लिए खड़े हो जाना और मिलकर ज़िम्मेदारियों को निभाना ही संयुक्त परिवार है।

संयुक्त परिवार में रहना pic(social media)

लेकिन बहुत ऐसे परिवार अभी हैं जो एक साथ रहना पसंद करते हैं और बिना किसी मन-मुनाव के रहते हैं। ऐसे में अगर नई बहू की संयुक्त परिवार में एंट्री होती है तो बहू को किस प्रकार ताल मेल बिठाना है आएये इसी विषय पर आज बात करते हैं और कुछ टिप्स भी देंगे नयी नवेली बहूरानी के लिए-


नयी बहू के लिए जरूरी टिप्स(Important tips for new daughter-in-la)

नयी बहू के लिए बड़े परिवार में तालमेल बिठाना बहुत बड़ा काम है, क्योंकि उसी के कंधों पर नई-नई ज़िम्मेदारियां डाल दी जाती हैं। फिर भले ही बहू एक छोटे परिवार या संयुक्त परिवार से ही क्यों न आती हो-


1- घर के सदस्यों का मान-सम्मान जरूरी(Respect)

संयुक्त परिवार मान सम्मान और मजबूज रिश्तों की नींव पर टिकी होती है। ऐसे में नई बहू को चाहिए कि वह बड़े व छोटे दोनों को सम्मान दे। बड़ों की बात को सुने और फॉलो भी करे। और छोटों को ढ़ेर सारा प्यार दे। यकीन मानिए ऐसा करने से बहू थोड़े ही दिनों में सबकी लाडली ब जाएगी और उसे भी बदले में मान सम्मान मिलेगा।

2- गॉसिप न करें (Don't gossip)

परिवार संयुक्त है इसलिए स्वाभाविक है कि चटपटी गॉसिप भी बहुत सारी होगी ही। ऐसे में परिवार के नए सदस्य होने के कारण आप इन सबसे दूर ही रहें। साथ ही अगर कोई आप से कोई कुछ कहता भी है तो आप उसे अपने तक ही रखें, इधर उधर की बातों पर ध्यान दें।

नयी बहू का संयुक्त परिवार में एडजस्ट करना pic(social media)


3- सोच समझकर करें बात(Talk Thoughtfully)

संयुक्त परिवार में बातें वही करनी चाहिए जो सटीक और दमदार हों। फालतू का बीच बीच में न ही बोलें और न ही टोका टाकी करें इससे आपके इमेज पर असर पड़ेगा। इसलए कोशिश करें कम और सटीक बोलें।

4- ज़िम्मेदारियों को समझें (Understand The Responsibilities)

बड़े परिवार का मतलब है कि ज़िम्मेदारियां और उन्हें निभाना। परिवार का हिस्सा होने के कारण ये ज़रूरी है कि आप परिवार और परिवार के हर सदस्य को समझें। इसी के साथ बड़े परिवार की जिम्मेदारियों को अपनाएं और ठीक से निभाएं।

5- सबकी हेल्प करें(Help Everyone)

बड़ें परिवार में सबकी जरूरते भी अलग अलग होती हैं। ऐसे में अपनी जिम्मेदारी से जी न चुराएं और सबकी हेल्प करें जितना संभव हो। जब आप किसी की मदद करेंगे ज़रूरत पड़ने पर आपको भी मदद मिलेगी।

Pallavi Srivastava

Pallavi Srivastava

Next Story